जयपुर के महिला चिकित्सालय, सांगानेरी गेट में बनेगा 500 बैड का आईपीडी टावर, सीएम गहलोत ने दी मंजूरी।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा प्रदेश में चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार और सुदृढ़ीकरण के लिए प्रतिबद्धता के साथ अहम निर्णय लिए जा रहे है। इसी दिशा में उन्होंने अब जयपुर स्थित महिला चिकित्सालय, सांगानेरी गेट में भी सुविधाएं बढ़ाने के लिए कुल 117 करोड़ रूपयेे व्यय के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की हैं। मुख्यमंत्री की स्वीकृति से महिला चिकित्सालय में लगभग 85.57 करोड़ रूपये लागत से 500 बैड का आईपीडी टावर और 21.43 करोड़ रूपये लागत से 100 कमरों का नवीन स्नातकोत्तर छात्रावास का निर्माण होगा। यहां करीब 10 करोड़ रूपये के चिकित्सकीय उपकरण खरीदे जाएंगे। प्रस्ताव के अनुसार, आईपीडी टावर में 50 बैड का आईसीयू, 6 मॉडयूलर ओटी तथा भूमिगत पार्किंग का निर्माण भी कराया जाएगा। गहलोत ने अतिरिक्त बजट प्रावधान के संबंध में चिकित्सा शिक्षा विभाग को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की इमरजेंसी कोविड रेस्पांस पैकेज (ईसीआरपी)-2 में स्वीकृत राशि का उपयोग किए जाने की भी स्वीकृति दी है। उल्लेखनीय है कि श्री गहलोत द्वारा बजट 2022-23 में महिला चिकित्सालय, सांगानेरी गेट में विभिन्न विकास कार्य कराए जाने की घोषणा की थी। गौरतलब है कि सवाई मानसिंह अस्पताल परिसर में लगभग 588 करोड़ की लागत से 116 मीटर ऊंचा विश्वस्तरीय आईपीडी टावर व अन्य चिकित्सा सुविधाएं भी निर्माणाधीन है। इसके बनने से एक साथ 1200 बैड की सुविधा बढ़ेगी। गहलोत द्वारा मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के जरिए लोगों को 10 लाख रूपए तक निःशुल्क इलाज उपलब्ध करवाकर हर परिवार की स्वास्थ्य सुरक्षा सुनिश्चित की जा रही है। साथ ही योजना में शामिल परिवारों को 5 लाख रूपए तक का दुर्घटना बीमा भी दिया जा रहा है। प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में 1 अप्रेल से ओपीडी एवं आईपीडी सुविधाएं निःशुल्क उपलब्ध कराई जा रही हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack