अग्निपथ योजना को लेकर कांग्रेस का विरोध, मंत्री और विधायक उतरे सड़क पर, दिया धरना।

करौली ब्यूरो रिपोर्ट।
करौली जिला मुख्यालय पर सोमवार को जिला कलक्ट्रेट में डांग विकास बोर्ड अध्यक्ष एवं करौली विधायक लाखन सिंह मीना के नेतृत्व में एवं सपोटरा मे विधायक एवं पंचायती राज मंत्री रमेश चंद मीना के नेतृत्व मे टोडाभीम मे विधायक पीआर मीना, हिंडौन मे विधायक भरोसी जाटव के नेतृत्व में जिला कॉंग्रेस कमेटी के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ योजना के मामले में राष्ट्रपति के नाम उपजिला कलक्टर को ज्ञापन प्रेषित किया।कॉंग्रेस कमेटी के दिये हुए ज्ञापन में बताया कि केंद्र की अग्निपथ योजना के तहत देश में सेना भर्ती प्रक्रिया से सेना को कमजोर और सैनिकों युवाओं का मनोबल तोड़ने का प्रयास किया जा रहा है जो देश हित में नहीं है।

यह रखी मांगे।

नौकरी की कोई सुरक्षा नहीं है क्योंकि 4 साल की सेवा के बाद उम्मीदवार फिर से बेरोजगार हो जाएंगे, अग्निपथ योजना 2022 के दौरान नियुक्त उम्मीदवार को कोई पेंशन नहीं मिलेगी, सरकारी सेवा निधि योजना से 4 वर्ष बाद एक  राशि में से केवल 11लाख ही अग्निवीरों को मिलेंगे जबकि 11 लाख में से कुछ राशि मासिक आधार पर भर्ती के वेतन से काट ली जाएगी, निकाली गई यह भर्ती सिर्फ 17 से 23 वर्ष के उम्मीदवारों के लिए है जबकि उम्र के बाद रोजगार की जरूरत ज्यादा रहती है एवं अन्य मांगों सहित युवाओं के हित में शीघ्र रद्द करने की जिला कांग्रेस कमेटी ने मांग रखी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack