कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम बोले-पायलट ने सियासी जहर पीया है और जहर पीने वाले का सावन में अभिषेक होगा।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
दो साल पहले आए राजनीतिक संकट पर प्रदेश में आरोप-प्रत्यारोप लगाने का सिलसिला तेज हो गया है। सचिन पायलट पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल के हमले के बाद कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने यह कहकर माहौल में गर्माहट ला दी है कि पायलट ने सियासी जहर पीया है और जहर पीने वाले का सावन में अभिषेक होगा। 
आचार्य प्रमोद कृष्णम के बयान को  सीएम गहलोत सहित अन्य नेताओं द्वारा दिए गए बयान से जोड़कर एक नया राजनीतिक संदेश निकल कर सामने आया हैं। प्रियंका गांधी के नजदीक माने जाने वाले सचिन समर्थक नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम पायलट के नजदीकी माने जाते हैं। आचार्य प्रमोद कृष्णम ने इशारों में पायलट को बड़ी जिम्मेदारी दिए जाने का दावा किया है। आचार्य प्रमोद मैं कहा कि प्रदेश- की राजनीति में सचिन पायलट ने जहर पीया है। महादेव ने जहर पीया था, उनका सावन में अभिषेक होता है। सावन आ रहा है, तो सियासी जहर पीने वाले का भी अभिषेक होगा।

गहलोत पिता तुल्य उनकी किसी बात का बुरा नहीं मानता- पायलट।


प्रदेश की राजनीति में चल रही राजनीतिक बयानबाजी पर पायलट ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि सीएम अशोक गहलोत बुजुर्ग और अनुभवी नेता है और वह मेरे पिता तुल्य हैं ऐसे में उनकी कहीं भी किसी भी बात का मैं बुरा नहीं मानता। उन्होंने टॉक में अग्नि वीर योद्धा के खिलाफ धरना स्थल पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मेरे धैर्य को लेकर प्रशंसा की उसके बाद से उसको लेकर अलग-अलग तरीके से नेता अपने तरीके से बयान दे रहे हैं।  जबकि राहुल गांधी के बयान का अपना मकसद होता है लेकिन इस बात को लेकर नेताओं को चिंता नहीं करनी चाहिए। इन सबके बीच पायलट समर्थक विधायकों ने भी अब पलटवार शुरू किया है। विराटनगर से पायलट गुट के कांग्रेस विधायक इंद्राज गुर्जर ने इशारों में सीएम गहलोत पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया- जमीन पर बैठा हुआ आदमी कभी नहीं गिरता, फ़िक्र उनको है, जो हवा में है। इसे सीएम गहलोत के बयान के जवाब के तौर पर देखा जा रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack