कोटा शहर में 300 करोड़ की योजना से डेयरी प्लांट होगा शुरू, पशुपालकों की आमदनी का बनेगा जरिया-मंत्री धारीवाल।

कोटा-हंसपाल यादव।
कोटा शहर विकास के साथ-साथ शांतिप्रिय शहर के नाम से भी अपनी पहचान बनाए ताकि प्रदेश और देश में एक अलग मिसाल बन सके यह अपील आज नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने कोटा में देवनारायण आवासीय योजना में रानपुर थाने के लोकार्पण समारोह के दौरान कही। उन्होंने पुलिस अधिकारियों द्वारा कोटा में बेहतर कानून व्यवस्था के किए जा रहे प्रयासों के लिए धन्यवाद भी जताया। मंत्री शांति धारीवाल ने पशुपालकों के लिए कोटा में स्थापित की गई देश ही नहीं दुनिया की अनूठी देवनारायण आवासीय योजना की विशेषताओं को बताते हुए कहा कि एक ही स्थान पर पशुपलकों के जीवन स्तर में बड़ा बदलाव करने वाली इस योजना में शहर में शेष बचे पशुपालकों को भी जल्द शिफ्ट किया जाएगा। कोटा शहर में अब पशु बाड़े नहीं रहेंगे। 300 करोड़ की योजना में जल्दी डेयरी प्लांट भी शुरू होने जा रहा है जो पशु पालकों की आमदनी का बड़ा जरिया बनेगा। थाने के लोकार्पण के मौके पर उन्होंने कहा कि उद्योग जगत की थाने की मांग भी पूरी हो गई है रानपुर थाना औद्योगिक विकास में भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा। वही कोटा में विकास के साथ कानून व्यवस्था भी सुदृढ़ रखकर कानून व्यवस्था मजबूत रखने का रेंज के आईजी और एसपी ने भी पूरा भरोसा दिलाया। समारोह के दौरान संभागीय आयुक्त ने मंत्री शांति धारीवाल के नेतृत्व में कोटा में चल रहे विकास कार्यों को मिसाल बताया। वही खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष पंकज मेहता एसएसआई के अध्यक्ष गोविंद राम मित्तल ने देवनारायण आवासीय योजना एवं कोटा में चल रहे विकास कार्यों की खुले दिल से तारीफ की। लोकार्पण समारोह के दौरान महापौर मंजू मेहरा उपमहापौर पवन मीणा सोनू कुरेशी जिला अधक्ष रविंद्र त्यागी, लाडपुरा प्रधान नईमुद्दीन गुड्डू, भड़क, जिला कलेक्टर ओपी बुनकर , न्यास ओएसडी आरडी मीणा, सचिव राजेश जोशी, सहित बड़ी संख्या में देवनारायण नगर के लाभार्थी, कांग्रेस कार्यकर्ता क्षेत्र के लोग मौजूद रहे। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack