छात्रसंघ चुनावः राजस्थान विश्वविद्यालय में अध्यक्ष पद के 6 उम्मीदवार, जुटे मतदाताओं की मनुहार में।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान  विश्वविद्यालय में अब छात्रसंघ चुनाव की तस्वीर साफ हाे गई है। नामांकन वापसी के बाद अध्यक्ष पद के लिए 6 उम्मीदवार मैदान में रह गए हैं। इनमें एबीवीपी के नरेंद्र यादव, एनएसयूआई की रितू बराला, निर्दलीय निर्मल चौधरी, निहारिका जोरवाल, प्रताप भानू मीणा औैर हितेश्वर बैरवा चुनाव लड रहे हैं। उपाध्यक्ष पद पर 6 उम्मीदवार हैं। जिनमें एबीवीपी की साक्षी शर्मा, एनएसयूआई की निकिता फामरा के अलावा कमल किशोर बेनीवाल, ट्विंकल शर्मा, अमीशा मीणा, मुस्कान शेखावत चुनावी मैदान में है। इसी तरह महासचिव पद पर 9 उम्मीदवार चुनावी रण में है। इनमें एबीवीपी से अरविंद जाजडा, एनएसयूआई से संजय चौधरी के साथ ही आकाश मीणा, आलोक शर्मा, अर्जुन कुमार, गुलाब मीणा, लेखराज सामोता, राजेंद्र चौधरी और तेजपाल भाटी के बीच सियासी लड़ाई होगी। जबकि संयुक्त सचिव के लिए एबीवीपी की कृष्णा तंवर औैर एनएसयूआई की धारा कुमावत एक दूसरे को टक्कर देगी। छात्रसंघ चुनावो में शोध छात्र प्रतिनिधि के लिए 5 छात्र चुनावी मैदान में है। इनमें रामस्वरूप ओला, ऋषभ चौधरी, देशराज चेतीवाल, पुष्पेंद्र सिंह और निशा ने के बीच मुकाबला होगा।राजस्थान यूनिवर्सिटी में इस बार कुल 20 हजार 770 मतदाता अध्यक्ष, महासचिव, उपाध्यक्ष और संयुक्त सचिव के लिए वोट दे सकेंगे। इनमें सबसे ज्यादा 4940 मतदाता महारानी कॉलेज में है।वहीं महाराजा कॉलेज में 2128 मतादाता, राजस्थान कॉलेज में 3336 मतदाता, कॉमर्स कॉलेज में 3518 मतदाता, फाइव ईयर लॉ कॉलेज में 570 मतदाता, लॉ कॉलेज में 521 मतदाता, लॉ कॉलेज इवनिंग में 586 मतदाता, पीजी डिपार्टमेंट और सेंटर्स में 4784 और सबसे कम मतदाता आर ए पोद्दार इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट में 387 वोटर हैं। शोध छात्र प्रतिनिधि चुनने के लिए 830 मतदाता अपने मताधिकार का का प्रयोग कर सकेंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack