जयपुर यूनाइटेड नेशन्स पीआरएमई ग्रुप में शामिल, विश्व के टॉप 880 मैनेजमेंट संस्थानों में हुआ लिस्टेड।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जयपुरिया इंस्टीटयूट ऑफ मैनेजमेंट, जयपुर यूनाइटेड नेशन्स प्रिसिंपल्स फॉर रिस्पॉसिव मैनेजमेंट एज्युकेशन (यूएनपीआरएमई) के लिए संयुक्त राष्ट्र सिद्धांतों का एक हस्ताक्षरकर्ता बन गया है। यह संस्थान दुनिया में शीर्ष 880 बिजनेस और मैनेजमेंट से संबंधित उच्च शिक्षा संस्थानों के ग्रुप में शामिल हो गया है। यूएनपीआरएमई, इंडिया चैप्टर हेड और एसपीजैन की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. चंद्रिका परमार ने संस्थान के निदेशक डॉ. प्रभात पंकज को सदस्यता चार्टर सौंपा। 'यूएन पीआरएमई: इंडिया चैप्टर जर्नी' विषय पर संबोधित करते हुए डॉ. चंद्रिका ने प्रबंधन शिक्षा में नैतिकता और सस्टेनिबिलटी की बढ़ती आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने छात्रों को सामाजिक रूप से जिम्मेदार बनने और दृढ़ विश्वास के साथ नैतिकता और सस्टेनिबिलटी के मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट के सामाजिक जुड़ाव प्रयासों की भी सराहना की। सत्र का संचालन डॉ वरुण चोटिया, फैकल्टी हेड, सोशल रिस्पांसिबिलिटी ने किया।यूएनपीआरएमई पर सत्र के बाद स्टार्टअप्स पर एक सत्र का आयोजन किया गया। 'स्टार्टअप के साथ अपने करियर की शुरुआत' विषय पर नंदकिशोर यादव, संस्थापक, आरएनएस आईटी सॉल्यूशंस और साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट ने छात्रों के साथ बातचीत की और अपनी उद्यमशीलता की यात्रा साझा की। संस्थान के पूर्व छात्र उद्यमी धीरज मोहन ने भी छात्रों को उद्यमी बनने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने छात्रों को सलाह दी कि वे जीवन में नए विचारों के साथ प्रयोग करते रहें और अस्वीकृति और असफलताओं से कभी न डरें। इनोवेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप सेल के चेयरपर्सन डॉ अन्वय भार्गव ने सत्र का समन्वयन किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack