ओलंपिक खेल के जिलास्तरीय कार्यक्रम का मंत्री ने किया शुभारंभ, 89646 खिलाड़ियों ने करवाया पंजीकरण और 7128 टीमो का गठन।

पाली-मनोज शर्मा।
राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल का सोमवार को सामाजिक न्याय व अधिकारिता व जेल मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री टीकाराम जूली के मुख्य आतिथ्य में भव्य शुभांरभ हुआ। ग्रामीण ओलंपिक खेल का जिला स्तरीय कार्यक्रम सोजत क्षेत्र के ग्राम पंचायत के चंडावल नगर के खेल मैदान में आयोजित हुआ। कार्यक्रम में पूर्व मुख्य सचिव मुख्यमंत्री सलाहकार  निरंजन आर्य, जिला कलक्टर नमित मेहता, जिला पुलिस अधीक्षक गगनदीप सिंगला, पूर्व प्रधान शोभा सोलंकी, नगर विकास न्यास के सचिव वीरेंद्र सिंह चौधरी, सोजत उपखंड अधिकारी गोपाल जांगिड़, जिला रसद अधिकारी सुमित्रा पारीक, जिला परिषद सदस्य कालूराम कंडारा, स्थानीय सरपंच घेवरचंद भाटिया सहित वरिष्ठ जन प्रतिनिधि अधिकारी खिलाड़ी व ग्रामीणजन मौजूद रहे ।

मार्च पास्ट को सलामी देकर, ध्वजारोहण कर शपथ दिलाकर किया शुभारंभ।
सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री व प्रभारी मंत्री टीकाराम जूली ने मार्च पास्ट को सलामी दी व ध्वजारोहण कर व शपथ दिलाकर राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल का शुभारंभ किया।प्रभारी मंत्री व अन्य अतिथियों द्वारा हॉकी मैच का शुभारंभ किया गया व हाथ मिलाकर खिलाड़ियों की हौसला अफजाई की गई। प्रभारी मंत्री ने ग्रामीण ओलंपिक खेल के उद्घाटन घोषणा करते हुए कहा कि राजस्थान में खेलों के लिए यह स्वर्णिम दिन है । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशानुरूप बजट घोषणा की अनुपालना में सभी आयु वर्गों के लोगों को खेलने का अवसर मिलेगा जिससे कि ग्रामीण क्षेत्रों से नई प्रतिभाएं निखरेगी। प्रभारी मंत्री ने राज्य सरकार की महत्वकांक्षी योजना चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना सहित अन्य योजनाओं की जानकारी दी व शत प्रतिशत रजिस्ट्रेशन करने को कहा। पूर्व मुख्य सचिव व मुख्यमंत्री के सलाहकार निरंजन आर्य ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि ग्रामीण ओलंपिक खेलों के माध्यम से सभी वर्गों को खेल में भाग लेने का अवसर मिल रहा है । उन्होंने कहा कि पूर्व में राज्य सरकार द्वारा राज्य खेलो का भव्य आयोजन हुआ । उन्होंने बताया कि ग्रामीण ओलंपिक खेलों में 30 लाख से ज्यादा खिलाड़ियों ने पंजीयन करवाया है यह खेलों के इतिहास में अभूतपूर्व क्रांति है ।जिला कलक्टर नमित मेहता ने बताया कि पाली जिले में लगभग 90 हजार खिलाड़ी पंजीकृत हुए हैं व 7128 टीमो का गठन किया गया है । उन्होंने कहा कि यह खेल ग्रामीणों में नई स्फूर्ति का संचार करेगा । उन्होंने बताया कि जिले में मॉडल खेल मैदान विकसित किए जा रहे हैं इससे ग्रामीण क्षेत्रों में खेलों का रुझान बढ़ेगा । 
सांस्कृतिक कार्यक्रमों का हुआ आयोजन।
जिला स्तरीय कार्यक्रम का शुभारंभ स्वागत गीत 'केसरिया बालम आओ नी पधारो म्हारा देश' से हुआ । कार्यक्रम में कठपुतली नृत्य एवं राजस्थानी गीत के द्वारा 'सौहार्द और सद्भाव के रंग-खेलो के संग' का संदेश दिया गया।मंच संचालन शिक्षा विभाग के सहायक निदेशक सोहन सिंह भाटी ने किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack