ACB DG बीएल सोनी ने भ्रष्टाचार मुक्त राजस्थान बनाने के संकल्प को मजबूत करने में आमजन से सहयोग मांगा।

श्रीगंगानगर-राकेश मितवा।
भ्रष्टाचार मुक्त राजस्थान बनाने की दिशा में संकल्प के साथ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने जन जागरूकता अभियान छेड़ने का निर्णय लिया है। और इसका आगाज श्रीगंगानगर से किया है।श्रीगंगानगर के ट्रेडर्स एसोसिएशन भवन में आज जन जागरूकता अभियान के तहत आम जनता से संवाद किया गया। मुख्य अतिथि ब्यूरो के महानिदेशक बीएल सोनी ने कहा कि भ्रष्टाचार मुक्त राजस्थान बनाने के लिए आम जनता के सहयोग की जरूरत है। 
एसीबी भी हर संभव तरीके से भ्रष्टाचार को दूर करने में आपका सहयोग करेगी।उन्होंने कहा कि रिश्वत लेना और देना दोनों ही अपराध है। सोनी ने कहा कि नए स्वरूप में एसीबी अब धीरे-धीरे आम जनता की सेवा में आगे बढ़ रही है। इसके लिए सजग ग्राम योजना भी शुरू की गई है। इसके तहत अधिकारी 1 ग्राम को गोद लेकर उसमें तमाम तरह से ग्रामीणों को भ्रष्टाचार के खिलाफ जागरूक करेंगे। वही अधिकारी भी समय-समय पर उस गांव में आम जनता से संवाद स्थापित करेंगे। इस अवसर पर एसीबी के बीकानेर एसपी देवेंद्र बिश्नोई ने कहा कि आम जनता को यह भय निकालना पड़ेगा कि अगर एसीबी में हमने शिकायत कर दी तो हमारे कार्य रुक जाएंगे। ऐसी संभावना बिल्कुल नहीं है। इस अवसर पर महानिदेशक बीएल सोनी ने आम जनता की जिज्ञासा को भी दूर किया। बाद में पत्रकार वार्ता में सोनी ने बताया कि 2020 में जहां 600 से अधिक अभियोजन स्वीकृति के लिए फाइल भेजी गई थी। जिनमें 90% से अधिक को अभियोजन स्वीकृति मिली काम की परीक्षा को लेकर सोनी ने बताया कि 92% प्रकरणों में 60% से अधिक चालन निर्धारित समय में किए गए इससे आम जनता में एसीबी के प्रति विश्वास बढ़ा है।इससे पूर्व एसीबी की स्थानीय चौकी के प्रभारी भूपेंद्र सोनी और वेद प्रकाश लखोटिया ने आम जनता का स्वागत करते हुए भ्रष्टाचार मुक्त करने की दिशा में इसी प्रकार लगातार विश्वास बनाए रखने के लिए धन्यवाद भी किया। महानिदेशक सोनी बताया कि सालाना लगभग 350 से अधिक प्रकरणों का एसीबी निस्तारण करती है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आम जनता को भी चाहिए कि वह भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो तक अपनी शिकायतें पहुंचाने में किसी भी प्रकार की घटना महसूस करें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack