पूर्व विधायक के भाइयों की दबंगई का मामला आया सामने, पीड़ीतों ने डीएम एसपी से लगाई न्याय की गुहार, आत्मदाह की दी चेतावनी।

चित्तौड़गढ़-गोपाल चतुर्वेदी।
चित्तौड़गढ़ जिले के कपासन उपखंड क्षेत्र के सिंहपुर गांव में  कपासन के पूर्व एमएलए और पूर्व डेयरी चेयरमैन बद्री लाल जाट और उसके भाइयों की दबंगई करने का मामला सामने आया है। जिसमें अवैध तरीके से सिंहपुर निवासी शांतिलाल माली और उसके परिवार जनों की जमीन पर अवैध तरीके से कब्जा करने की नियत से घर में घुसकर महिलाओं, बालिकाओं और परिवार जनों के साथ बदसलूकी व मारपीट करने का मामला सामने आया है। वहीं पूर्व एमएलए के दबाव में सिंहपुर पुलिस चौकी एवं कपासन थाना पुलिस की ओर से शांतिलाल माली की ओर से कुछ दिनों पूर्व दी गई रिपोर्ट को भी दर्ज नहीं किया गया। जिसके चलते पीड़ित परिवार के सदस्यों ने जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक के समक्ष प्रस्तुत होकर अपनी पीड़ा बताई। जिस पर दोनों ही आला अधिकारियों ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। जानकारी के अनुसार कपासन उपखंड के सिंहपुर गांव में कपासन विधानसभा से भाजपा के पूर्व विधायक और पूर्व डेयरी चेयरमैन बद्रीलाल जाट के साथ उसके उसके भाइयों मदन लाल जाट और रतन लाल जाट की दबंगई पिछले कई दिनों से देखने को मिल रही है। जिसमें पूर्व एमएलए के परिवार के सदस्य के साथ कुछ अन्य लोग भी सिंहपुर गांव में अपनी राजनैतिक प्रभाव के चलते अवैध तरीके से सिंहपुर निवासी शांतिलाल माली और उसके परिवार की जमीन पर कब्जा करने के नियत से नित्य नए हथकंडे अपनाने के साथ हथियारों से लैस घर में घुसकर महिलाओं बालिकाओं और अन्य लोगों को धमकाकर बदसलूकी कर रहे हैं।
इसके बारे में जानकारी देते हुए पीड़ित परिवार की महिला पार्वती माली ने बताया की कपासन के पूर्व एमएलए बद्री लाल जाट और उसके भाइयों के साथ करीब आधा दर्जन लोगों ने विगत कई दिनों से पूरे परिवार को डरा धमका कर उनकी जमीन पर कब्जा करने का प्रयास किया है और एक जगह पर जेसीबी चलाकर दीवार को ध्वस्त कर दिया है । रविवार रात को करीब एक दर्जन लोगो ने तलवार और हॉकी स्टिक के साथ हमारे घर मे  जबरदस्ती घुस गए और सभी जमीनों को उनके नाम करने पर दबाव बनाने लगे धमकी दी। अगर ऐसा नहीं किया तो पूरे परिवार को जान से मार दिया जाएगा। कपासन थाने में लिखित में रिपोर्ट दे दीं लेकिन अभी तक पूर्व एमएलए के दबाव में प्रकरण दर्ज नहीं किया गया। जिसके चलते आज परिवार के सदस्यों ने ग्रामीणों के साथ मुख्यालय पर जिला कलेक्टर अरविन्द पोसवाल और पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत को लिखित में ज्ञापन दिया गया है। उन्होंने कहा कि अगर दोषियों को शीघ्र गिरफ्तार नहीं किया गया तो परिवार के सदस्य जिला कलेक्ट्री के बाहर आत्मदाह कर लेंगे। परिवार की एक बालिका पूजा माली ने बताया कि रविवार रात को पूर्व एमएलए उसके भाइयों और कई अन्य लोगों ने हमारे घर में घुसकर मेरे साथ बदतमीजी और बदसलूकी की है। साथ ही तलवार कंधे पर रखकर जान से मारने की धमकी भी दी है। जिसके चलते पूरा परिवार भय के साए में जी रहा है और आज पुलिस अधीक्षक जिला कलेक्टर से मिलकर पूरे परिवार के जान की सुरक्षा की गुहार लगाई है। वही जानकारी के सामने आया है कि बद्री लाल जाट और उसके परिवार के सदस्य गांव के ही कुछ लोगों के साथ मिलकर जमीनों को हथियाने का काम कई महीनों से कर रहे हैं और राजनीतिक प्रभाव के चलते गांव का कोई भी ग्रामीण उनके खिलाफ बोलने को तैयार नहीं हो रहा। कपासन थाना पुलिस और सिंहपुर चौकी पर तैनात कांस्टेबल उनके दबाव में काम कर रहे हैं और पीड़ित पक्ष को न्याय दिलाने में असमर्थ और असहाय दिखाई दे रहे हैं। अब देखना यह है कि जिले के आला अधिकारी पीड़ित परिवार के सदस्यों को किस तरह से जान माल की सुरक्षा कर पाते हैं या फिर पीड़ित परिवार के सदस्यों को जिला मुख्यालय के बाहर आत्मदाह करने पर मजबूर होना पड़ेगा यह तो आने वाला समय ही बताएगा l

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack