स्वर्गीय मोहम्मद रफी को समर्पित हुआ सबक़ कार्यक्रम।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
सबक़ के मासिक कार्यक्रम में मोहम्मद रफ़ी की याद में "याद ना जाये" कार्यक्रम प्रस्तुत हुआ। गुलज़ार वायलिन आकदमी व नेटथियेट के सयोजन में इस बार सबक़ के मंच पर गायक फ़तेह अली व  गायिका अंजलि वर्मा ने मोहम्मद रफ़ी के गाये हुए याद ना जाये, तेरे मेरे मिलन की रैना, कितना प्यारा वादा, दर्दे दिल दर्दे  दर्दे जिगर जसे मशहूर नग़मे मधुरता के साथ प्रस्तुत किये। इस अवसर पर कायर्क्रम की विशिष्ट अतिथि कीर्ति रायमलानी ने फ़तेह अली व अंजलि वर्मा को  "श्रेष्ठ साधक उपाधि " से सम्मानित किया। सबक़ के अध्यक्ष गुलज़ार हुसैन ने व सभी सदस्यों रिज़वान अस्करी, राहुल कुमावत, अनवी संचेति, यशा श्यामसुखा, शीला राठौड़, व पुष्पेंद्र अग्रवाल ने सभी का धन्यवाद किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack