केन्द्र सरकार की योजना खोखला हुई साबित, अग्निपथ योजना युवाओं के भविष्य के लिए नुकसानदेह-सचिन पायलट।

टोंक ब्यूरो रिपोर्ट।
पूर्व उपमुख्यमंत्री और टोंक विधायक सचिन पायलट ने अग्निवीर योजना पर बोलते हुए कहा कि देश की केंद्र सरकार ने युवाओं को निराश किया है और आज युवाओं में आक्रोश है। पायलट ने अपनी विधानसभा के ग्रामीण क्षेत्र के दौरे पर रहे और उन्होंने बजट घोषणा 2022-23 के तहत स्वीकृत अमीनपुरा से छानबाससूर्या की बनास नदी मार्ग पर 25 करोड़ की लागत से वेंटेड काजवे सहित विभिन्न विकास कार्यों का शिलान्यास किया।इस दौरान समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने 25 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इस वेंटेड काजवे से होने वाले फायदे गिनाए। वहीं केंद्र सरकार की योजनाओं को खोखला बताते हुए अग्निपथ योजना को युवाओं के भविष्य के लिए नुकसानदेह बताया। आयोजित शिलान्यास समारोह के दौरान सभा को संबोधित करते हुए पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने आगामी 10 महीनों बाद इसी वेंटेड काजवे पर चलकर सभा करने का दावा करने के साथ ही आसपास के गांवों के लिए काफी फायदेमंद होना बताया। वहीं केंद्र सरकार को महंगाई और रोजगार के मुद्दे पर घेरते हुए पायलट ने कहा कि भाजपा की पिछले 8 साल के राज में जो दावे किए गए थे। उसके उलट देश और प्रदेश में रोजगार तो मिल नहीं, लेकिन रसोई गैस और पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती दरों और महंगाई से आम आदमी त्रस्त है। पालयट ने तीनों कृषि संशोधन बिल का हवाला देते हुए कहा कि जिस प्रकार से किसानों के लिए बनाए गए काले कानून केंद्र सरकार को वापस लेना पड़ा। उसी तरह अग्निपथ योजना को भी केंद्र सरकार को वापस लेना पड़ेगा, क्योंकि इस योजना के चलते सेना में देश सेवा के भाव रखने वाले युवाओं की उम्मीदों से खिलवाड़ किया गया है। एक युवा को महज चार साल की नौकरी के बाद रिटायर कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार ने सबसे ज्यादा विपक्ष को परेशान किया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack