छात्रसंघ चुनाव में भील प्रदेश विद्यार्थी मोर्चा का परचम, कार्यकर्ताओं में जश्न का माहौल।

डूंगरपुर-प्रवेश जैन।
डूंगरपुर जिले में छात्रसंघ चुनावो की मतगणना पूरी हो चुकी है। जिले के सबसे बड़े एसबीपी कॉलेज में 5वी बार एबीवीपी, एनएसयूआई और एसएफआई जैसे छात्र संगठनों को पछाड़ते हुए भील प्रदेश विद्यार्थी मोर्चा (बीपीवीएम) ने बड़ी जीत दर्ज की है। बीपीवीएम को अध्यक्ष समेत चारों पदों पर जीत मिली है। वही इसके अलावा अन्य तीन कालेजो में भी बीपीवीएम के उम्मीदवार जीते है। इधर दो कालेजो में पूर्व में बीपीवीएम के उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित हो चुके है। डूंगरपुर जिले में हुए छात्रसंघ चुनाव में एक बार फिर भील प्रदेश विद्यार्थी मोर्चा (बीपीवीएम) ने अपनी जीत का परचम लहराया है। डूंगरपुर जिले के चार कालेजो में आज हुई मतगणना में चारो कॉलेजों में बीपीवीएम के पेनल ने जीत दर्ज की है। जिले के सबसे बड़े एसबीपी कॉलेज में अध्यक्ष पद पर बीपीवीएम के तुषार परमार ने 857 मतों से जीत दर्ज की है। तुषार को 1269 वोट मिले, जबकि उनके प्रतिद्वंदी एबीवीपी के गणेश कटारा को 412 वोट मिले है। अध्यक्ष पद पर 5 उम्मीदवार मैदान में थे। एबीवीपी और एनएसयूआई जैसे बड़े संगठनों को हराकर बीपीवीएम जितने में कामयाब रही। इसी तरह उपाध्यक्ष पद पर बीपीवीएम की केसर कुमारी परमार, महासचिव पद पर निलेश रोत और संयुक्त सचिव पद पर सुनील रोत ने जीत दर्ज की है। सभी पदों बड़े छात्र संगठनों के प्रत्याशी हारे है। बीपीवीएम को मिली जीत के बाद जश्न का माहौल है। ढोल धमाकों के साथ नारेबाजी करते हुए जीते उम्मीदवारों को कंधो पर बैठाकर कार्यकर्ता खूब नाचे। 
वीकेबी गर्ल्स कॉलेज में बीपीवीएम की मीनाक्षी अध्यक्ष।
वीकेबी गर्ल्स कॉलेज में भी बीपीवीएम को जीत मिली है। प्रिंसिपल पन्नालाल ने बताया की अध्यक्ष पद पर बीपीवीएम की मीनाक्षी कलासुआ जीती है। मीनाक्षी को 291 वोट मिले। जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी एसएफआई की चंचल कुमारी मीणा को 103 वोट ही मिले। उपाध्यक्ष पद पर बीपीवीएम की पायल डामोर को 304 वोट, महासचिव पद पर मनीषा अहारी को 216 वोट ओर संयुक्त सचिव पद पर राजेश्वरी डामोर को 255 वोट मिले और जीत दर्ज की है।
बिछीवाड़ा कॉलेज में भी बीपीवीएम का कब्जा।
बिछीवाड़ा सरकारी कॉलेज में सभी चारो पदों पर बीपीवीएम ने बड़ी जीत दर्ज की है। अध्यक्ष पद पर बीपीवीएम के संजय कुमार पांडोर ने एनएसयूआई की शारदा को 218 वोट से हराया। संजय को 268 वोट मिले, जबकि शारदा को 50 वोट ही मिले। उपाध्यक्ष पद पर बीपीवीएम की शिल्पा कुमारी मोडिया को 272 वोट, महासचिव पद पर बीपीवीएम की रीना खराड़ी को 270 वोट ओर संयुक्त सचिव पद पर गोविंद ननोमा को 270 वोट मिले है।
भीखाभाई सागवाडा कॉलेज में भी फहराया बीपीवीएम का परचम।
इधर डूंगरपुर जिले के सागवाडा भीखाभाई कॉलेज में भी भील प्रदेश विद्यार्थी मोर्चा ( बीपीवीएम) का परचम लहराया। बीपीवीएम के पैनेल ने सभी पदों पर जीत दर्ज की। जिसमे अध्यक्ष पद पर बीपीवीएम की शीला डामोर ने एबीवीपी के अशोक डिन्डोर को 186 मतों से हराया। शीला डामोर को 312 व अशोक को 126 मत मिले। इसी तरह उपाध्यक्ष पद पर बीपीवीएम की नीता कटारा, महासचिव पद पर राहुल परमार और संयुक्त सचिव पद पर बीपीवीएम के सुनील कटारा ने जीत हासिल की।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack