महिला समानता दिवस पर सीएम गहलोत महिलाओं को देंगे सौगात।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
महिला समानता दिवस के अवसर पर शुक्रवार को होने वाले राज्य स्तरीय समारोह में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत स्वयं सहायता समूह सदस्यों की प्रथम महिला निधि ‘‘राजस्थान महिला निधि कॉपरेटिव क्रेडिट फैडरेशन’’ का लोकार्पण करेंगे। जयपुर के सीतापुरा स्थित जेईसीसी, कन्वेशन हॉल में पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्री रमेश चन्द मीना की उपस्थिति में होने वाले इस समारोह में स्वयं सहायता समूह एवं विभिन्न योजनाओ से लाभान्वित 10,000 महिलाएं शामिल होंगी। साथ ही कई वित्तीय संस्थानों के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग की प्रमुख शासन सचिवअपर्णा अरोरा ने महिला समानता दिवस के अवसर आयोजित किए जा रहे पांच दिवसीय समारोह की शृंखला के सम्बन्ध में सोमवार को आयोजित एक प्रेसवार्ता में पत्रकारों को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस अवसर पर महिला सशक्तीकरण से सम्बन्धित कई फिल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा एवं योजनाओं का शुभारम्भ किया जाएगा। इस कार्यक्रम का प्रसारण वीसी के माध्यम से जिला मुख्यालयाें पर भी किया जायगा एवं स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं से सीधा संवाद भी होगा। कार्यक्रम में राजीविका कम्युनिटी केडर को उत्कृष्ट सामाजिक सेवाओं के लिए पुरस्कार भी प्रदान किए जाएंगे। अरोरा ने बताया कि पांच दिवसीय समारोह का आगाज मंगलवार को जवाहर कला केन्द्र में महिला स्वयं सहायता समूह उत्पादों की पांच दिवसीय प्रदर्शनी से होगा।  प्रदर्शनी में राज्य के विभिन्न जिलों से एवं दूसरे राज्यों से आये स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा विभिन्न उत्पादों की स्टॉल लगायी जायेंगी। उन्होने बताया कि बुधवार को ‘‘2025 तक सम्पूर्ण महिला समानता’’ विषय पर परिचर्चा का आयोजन राज्य कृषि प्रबन्ध संस्थान, दुर्गापुरा में राजस्थान के महिला जन संगठनाें के साथ होगा।  गुरूवार, 25 अगस्त को को ‘‘महिला सशक्तिकरण पर राष्ट्रीय परिचर्चा’’ जेईसीसी, कन्वेशन हॉल, सीतापुरा में प्रातः 10.00 बजे से सांय 6.00 बजे तक होगी। महिला सशक्तिकरण पर राष्ट्रीय परिचर्चा में राजीविका स्वयं समूह की लगभग 1200 महिलाएं तथा ग्रामीण विकास की विभिन्न योजनाओं, नरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ  भारत मिशन की महिला लाभार्थी सम्मिलित होंगी। इस परिचर्चा में राजीविका की कम्युनिटी केडर यथा कृषि सखी, पशु सखी, बैंक सखी, बिजनेस करस्पोण्डेण्ट, डिजीपे सखी, समूह सखी तथा समुदाय संगठनों की पदाधिकारी व कर्मचारी भी सम्मिलित होंगी। प्रमुख शासन सचिव अरोरा एवं राज्य मिशन निदेशक राजीविका मंजू राजपाल ने पत्रकारों द्वारा सवाल किए जाने पर राजीविका में नवाचार, महिला स्वयं सहायता समूहों की कार्यप्रणाली, उनको बाजार उपलब्ध कराने के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में जानकारी दी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack