अधिकारियों से खफा हुए मंत्री विश्वेन्द्र सिंह, बोले-कार्रवाई के लिये हो जाओ तैयार।

भरतपुर ब्यूरो रिपोर्ट
पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने बीते 2 महीने के दौरान तीन बार जनसुनवाई की। जनता की समस्याएं सुनी और उनके समाधान के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित भी किया। लेकिन फिर भी अधिकारियों ने जनता की समस्या का समाधान नहीं किया। अब मंत्री विश्वेंद्र सिंह अधिकारियों के रवैया से खफा हो गए हैं और बुधवार को होने वाली जनसुनवाई को रद्द कर दिया है। इतना ही नहीं, मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने संबंधित अधिकारियों को आगाह किया है कि अब सचेत हो जाओ। किसी के भी खिलाफ कभी भी कार्रवाई हो सकती है। भरतपुर में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि बीते 2 महीने में तीन जनसुनवाई हुई। जनसुनवाई में दूरदराज से गरीब और ग्रामीण लोग पैसा खर्च करके आते हैं। वो उम्मीद लगा कर आते हैं कि उनकी समस्या का समाधान होगा। लेकिन संबंधित अधिकारी निर्देश के बावजूद गरीब जनता का काम नहीं कर रहे। इसलिए जनसुनवाई करने से कोई फायदा नहीं। मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि अब किसी भी अधिकारी के खिलाफ कभी भी सख्त कार्रवाई की जा सकती है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गरीब जनता और आम लोगों के विकास के काम कराना चाहते हैं, लेकिन अधिकारी लापरवाही बरत रहे हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack