बाल कल्याण समिति ने बालिका को शिक्षा से जोड़ने के लिए दिलवाये दस्तावेज।

हनुमानगढ़-विश्वास कुमार।
3 दिन पहले टिब्बी तहसील से एक महिला ने बाल कल्याण समिति अध्यक्ष जितेंद्र गोयल को प्रार्थना पत्र देकर अवगत करवाया की मेरे पति व ससुराल पक्ष जो रावतसर क्षेत्र के है उनके द्वारा मुझे  घर से निकाल दिया गया और बालिका और मै मेरे पीहर में पिता के पास टिब्बी क्षेत्र में रहते है। बालिका पढ़ना चाहती और नामांकन का अंतिम समय चल रहा है।बालिका को शिक्षा के लिए दस्तावेज चाहिए और ससुराल पक्ष वाले बालिका के दस्तावेज नही दे रहे है और लंबे समय से बालिका दस्तावेज के अभाव मे शिक्षा से वंचित है। इस पर बाल कल्याण न्यायपीठ द्वारा रावतसर पुलिस को पूरे मामले से अवगत करवाते हुए पत्र लिखा। जिसमे महिला के ससुराल पक्ष से अतिशीघ्र बालिका के पढ़ाई से संबंधित सारे दस्तावेज बाल कल्याण को उपलब्ध करवाये। जिसके चलते पुलिस द्वारा सारे दस्तावेज बाल कल्याण समिति हनुमानगढ़ को उपलब्ध करवा दिए गये और बाल कल्याण समिति अध्यक्ष गोयल ने माता और बालिका और बालिका के नाना को बुलाकर शिक्षा से सम्बंधित सारे दस्तावेज सौंपे। बालिका को शिक्षा से जोड़ने व पाठ्य सामग्री की जरूरत से संबंधित कोई भी जरूरत अवगत करवाएं। हम पूरा सहयोग करेंगे। बालिका की माता ने कहा कि हमारे को कोई उमीद नही दिख रही थी कि वो लोग हमें दस्तावेज देंगे। किसी ने कहा बाल कल्याण समिति हनुमानगढ़ को आप एक बार अवगत करवाओ तो हम जानते ही नही थे कि ऐसी भी कोई जिले में बच्चों की सहायता संबंधित न्यायपीठ है। अब पता चला हमारे छोटे से प्रार्थना पत्र पर इतनी जल्दी कागजात दिलवा दिए। दस्तावेज पाकर बालिका व उसकी माता ने खुशी का इजहार करते हुए बाल कल्याण समिति का धन्यवाद दिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack