छात्रसंघ चुनाव नामांकन के दौरान कई जिलो में पुलिस और छात्र नेताओं की झड़प।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान में छात्रसंघ चुनाव के नामांकन के दौरान जयपुर, बाड़मेर और अजमेर सहित कई जिलों में पुलिस ने लाठीचार्ज कर भीड़ को खदेड़ा। इस दौरान जयपुर में एक घंटे के अंदर राजस्थान विश्वविद्यालय गेट पर 3 बार लाठीचार्ज हुआ। लाठीचार्ज में निर्दलीय उम्मीदवार निर्मल चौधरी, उनकी बहन और एबीवीपी प्रत्याशी नरेन्द्र बेहोश हो गए। वहीं बाड़मेर में एनएसयूआई और एबीवीपी के बागी उम्मीदवार के कार्यकर्ताओं में खींचतान होता देख पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।राजस्थान विश्वविद्यालय में निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल अपने समर्थकों के साथ पहुंचे थे। निर्दलीय उम्मीदवार निर्मल चौधरी के समर्थक जेएलएन मार्ग पर प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान जाम लग गया। पुलिस ने उनके समर्थकों को विश्वविद्यालय में घुसने से रोक दिया। निर्मल नाराज समर्थकों को लेने फिर से जेएलएन मार्ग पहुंचे। इस दौरान पुलिस और निर्मल में बहस हो गई। जो झड़प में बदल गई। पुलिस ने लाठीचार्ज कर निर्मल और उनके समर्थकों को खदेड़ दिया। निर्मल अपने समर्थकों के साथ विश्वविद्यालय के मेन गेट पर धरने पर बैठ गए। वहां एक बार फिर झड़प हो गई। पुलिस ने निर्मल को विश्वविद्यालय से खदेड़ दिया। पूरे लाठीचार्ज में 2 दर्जन से ज्यादा छात्रों को चोट आई है।लाठीचार्ज के दौरान हुई भगदड़ में पुलिस ने निर्मल की गाड़ी के कांच तोड़ दिए। इस दौरान एक समर्थक के सीने में कांच घुस गया। निर्मल और उनकी बहन के साथ भी मारपीट की।इसके बाद एबीवीपी के प्रत्याशी नरेंद्र अपने समर्थकों के साथ राजस्थान विश्वविद्यालय पहुंचे। कुछ ही देर में पुलिस और एबीवीपी के कार्यकर्ता भी आमने-सामने हो गए। पुलिस ने इस बार एबीवीपी पर लाठीचार्ज किया। इसमें एबीवीपी के प्रत्याशी नरेंद्र और उनके समर्थकों को गंभीर चोट आई। वहीं दो पुलिस अधिकारियों का सिर फूटने की की बात सामने आ रही है।जयपुर में लाठीचार्ज के दौरान का वीडियो सामने आया है, जिसमें छात्रा पुलिसवाले से झड़प करने लगी। वहीं पुलिस ने निर्दलीय उम्मीदवार निर्मल चौधरी के समर्थकों की गाड़ियों पर भी जमकर लाठी बरसाई और एसयूवी के कांच तोड़ दिए। लाठीचार्ज के बाद निर्मल के समर्थक गांधी नगर थाने के बाहर धरने पर बैठ गए। पुलिस ने निर्मल के समर्थकों को गांधी नगर से भी खदेड़ दिया। वहीं निर्मल को अज्ञात स्थान पर ले जाया गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack