बेखौफ बदमाशों ने राजधानी में की डकैती,आटा व्यापारी के परिवार को बंधक बनाकर की करोड़ों रुपए की लूट।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जयपुर के गलता गेट थाना इलाके में बुधवार रात एक व्यापारी के घर डकैती  हो गई। कार में सवार होकर आए पांच बदमाश खुद को इनकम टैक्स ऑफिसर बता एक आटा व्यापारी के घर में घुस गए। बदमाशों ने पूरे परिवार को बंधक बनाकर करोड़ों रुपए की डकैती डालकर मौके से फरार हो गए। राजधानी में डकैती की वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश पूरे परिवार के मुंह पर टैप लगा और हाथ पैर बांधकर मौके से फरार हो। बदमाश तकरीबन 60 लाख रुपए से अधिक की नकदी और 1.5 किलो सोने के जेवरात लूटकर मौके से फरार हो गये।जैसे-तैसे परिवार के सदस्यों ने एक दूसरे को मुक्त करवाया और मदद के लिए शोर मचाया। पीड़ित परिवार का शोर सुनकर आसपास रहने वाले लोग एकत्रित हो गए और पुलिस कंट्रोल रूम को फोन कर वारदात की सूचना दी। सूचना पर गलता गेट थाना पुलिस मौके पर पहुंची और पूरे शहर में ए-श्रेणी की नाकाबंदी करवाई गई। लेकिन बदमाशों का कोई सुराग पुलिस के हाथ नहीं लग सका। एडिशनल पुलिस कमिश्नर क्राइम अजय पाल लांबा ने बताया कि आटे का व्यापार करने वाले सत्यनारायण स्वामी के घर पर डकैती की वारदात हुई है। कार में सवार होकर आए 5 बदमाशों ने सबसे पहले पीड़ित के मकान में प्रवेश किया और टीवी देख रही पीड़ित की दोनों बहुओं पर हथियार तान खुद को इनकम टैक्स ऑफिसर बताया। बदमाश तकरीबन 7:30 बजे पीड़ित के घर में घुसे और पीड़ित जब अपनी दुकान से 8 बजे घर लौटा उस वक्त घर पर मौजूद 9 सदस्यों को बदमाश बंधक बना चुके थे। पीड़ित के घर में घुसते ही बदमाशों ने उसके मुंह पर टेप लगाई और पिस्टल तान दीवार की तरफ मुंह कर खड़ा होने के लिए कहा। इसके बाद बदमाश पीड़ित के पोते को लेकर पूरे घर में घूमे और अलमारी की चाबी मांगी। चाबी नहीं देने पर पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी और कुछ चाबियां बदमाशों के हाथ लगी। जिस पर उन्होंने अलमारी के लॉक खोलकर नकदी व जेवरात लूटे। जिन अलमारियों की चाबी बदमाशों के हाथ नहीं लगी उनके लॉक तोड़कर सामान लूटा गया। बदमाश तकरीबन 60 लाख रुपए से अधिक की नकदी और 1.5 किलो सोने के जेवरात लूटकर मौके से फरार हो गया।बदमाश पीड़ित व्यापारी के घर पर 1 घंटे तक रहे और परिवार के सभी 10 सदस्यों को बंधक बना कर मौके से फरार हो गए। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश पीड़ित के घर पर लगे सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर भी अपने साथ ले गए। फिलहाल पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे अन्य सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाल कर बदमाशों का सुराग लगाने में जुट गई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack