शिक्षक ने की छात्राओं के साथ छेड़छाड़, आक्रोशित ग्रामीणों ने शिक्षक के काटे बाल जमकर की धुनाई।

सवाई माधोपुर-हेमेन्द्र शर्मा।
सवाई माधोपुर जिले के खिजुरी गांव में आज उस वक्त ग्रामीण आक्रोशित हो गए जब शिक्षा के मंदिर में एक शिक्षक ने शिक्षक के पद को कलंकित करते हुए विद्यालय की दो बालिकाओं को सफाई के बहाने कम्प्यूटर कक्ष में बुलाकर बालिकाओं से छेड़छाड़ कर दी। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने आरोपी शिक्षक की जमकर पिटाई कर दी। वही ग्रामीणों ने आरोपी शिक्षक के बाल भी काट दिए और विद्यालय पर ताला जड़ दिया । साथ ही विद्यालय के बाहर लालसोट-कोटा मेगा हाइवे पर जाम लगा दिया दरअसल सवाई माधोपुर जिले के रवाजना डुंगर थाना क्षेत्र स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय खिजुरी में 20 अगस्त शनिवार को विद्यालय में कार्यरत शिक्षक इकबाल हुसैन ने विद्यालय की दो नाबालिग बालिकाओं को सफाई के बहाने कम्प्यूटर कक्ष में बुलाकर बालिकाओं से छेड़छाड़ की।बालिकाओं ने घर पहुंचकर परिजनों को शिक्षक की करतूत के बारे में जानकारी दी। 
दूसरे दिन रविवार था और आज सोमवार को जैसे ही विद्यालय खुला वैसे ही पीड़ित बालिकाओं के परिजन के बड़ी संख्या में ग्रामीणों के साथ विद्यालय पहुंच गये। जहाँ ग्रामीणों ने शिक्षक की करतूत को लेकर जमकर हंगामा किया। इस दौरान आक्रोशित ग्रामीणों ने आरोपी शिक्षक इकबाल हुसैन की जमकर पिटाई कर दी व शिक्षक के बाल काट दिए और विद्यालय पर ताला लगा दिया । इस दौरान ग्रामीणों ने विद्यालय के सामने लालसोट कोटा मेगा हाइवे पर जाम लगा दिया और आरोपी शिक्षक को निलंबित करने व विद्यालय स्टॉफ को बदलने की मांग को लेकर प्रदर्शन करने लगे । ग्रामीणों का आरोप है कि आरोपी शिक्षक के बारे में पूर्व में भी बालिकाओं से छेड़छाड़ करने का आरोप है। आरोपी शिक्षक विद्यालय में अक्सर किसी ना किसी बहाने बालिकाओं को गलत तरीके से छूने का प्रयास करता था।ग्रामीणों द्वारा शिक्षक से मारपीट करने व विद्यालय पर ताला जड़ने की सूचना के साथ ही जिला शिक्षा अधिकारी नाथू लाल खटीक ,एडीसीपी दिनेश गुप्ता ,एसडीएम कपिल शर्मा ,पुलिस उपाधीक्षक ग्रामीण अनिल डोरिया सहित रवाजना डुंगर थानाधिकारी पूरन सिंह पुलिस जाब्ते के साथ विद्यालय पहुँचे और मामले की जानकारी ली । इस दौरान अधिकारियों ने ग्रामीणों की मांग पर आरोपी शिक्षक को निलंबित करने के लिए शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक को लिखित में अनुशंषा की और आरोपी शिक्षक को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया गया । लेकिन ग्रामीण आरोपी शिक्षक को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने एंव विद्यालय स्टॉफ को बदलने की मांग को लेकर अड़ गए और जाम लगाकर जमकर प्रदर्शन किया । जिसे लेकर एसडीएम व पुलिस अधिकारियों सहित शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने ग्रामीणों से समझाइस की । करीब तीन घण्टे की कड़ी समझाइस के बाद ग्रामीणों ने लालसोट कोटा मेगा हाइवे से जाम हटाया। तब जाकर यातायात सुचारू हुआ । वही पुलिस ने आरोपी शिक्षक इकबाल हुसैन को हिरासत में ले लिया और पुलिस आरोपी शिक्षक को थाने ले गई। पीड़ित बालिकाओं के परिजनों द्वारा आरोपी शिक्षक के खिलाफ रवाजना डुंगर थाने में मामला दर्ज करवाया गया है। विद्यालय के प्रिंसिपल द्वारा भी आरोपी शिक्षक के खिलाफ कार्यवाही को लेकर शिक्षा विभाग को लिखित में शिकायत भेजी गई है । आरोपी शिक्षक को पुलिस द्वारा थाने ले जाने के बाद ही ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ ओर ग्रामीणों ने प्रदर्शन खत्म कर जाम खोला। आपको बता दे, कि राजस्थान में लगातार बड़ रही आपराधिक घटनाओं से अब शिक्षा के मंदिर भी अछूते नही रहे। सवाई माधोपुर जिले के खिजुरी में एक शिक्षक ने गुरु शिष्य के रिश्ते को शर्मसार करते हुए गुरु शिष्य के रिश्ते पर कालिख पोत दी । ऐसे में एक बार फिर राजस्थान सरकार कटघरे में है और सरकारी सिस्टम व सरकार पर प्रश्न उठना लाज़मी है

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack