एसीबी टीम ने डीटीओ सहित तीन लोगों को वाहनों के रजिस्ट्रेशन कार्य की एवज में घूस लेते पकड़ा।

भरतपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
एसीबी दौसा की टीम ने भरतपुर में छापामार कार्रवाई कर जिला परिवहन अधिकारी दिलीप तिवारी, सहायक प्रशासनिक अधिकारी अनिल कुमार शर्मा और उनके दलाल कपिल शर्मा को परिवादी से 37200 रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने परिवादी से यह रिश्वत उसकी फर्म द्वारा कराए जा रहे नए वाहनों के रजिस्ट्रेशन कार्य की एवज में मांगी थी। परिवादी ने एसीबी की दौसा टीम को बीते दिनों शिकायत की थी कि जिला परिवहन अधिकारी दिलीप तिवारी, सहायक प्रशासनिक अधिकारी अनिल कुमार और उनका दलाल कपिल शर्मा उससे 37200 रुपए की रिश्वत मांग कर परेशान कर रहे हैं। परिवादी की शिकायत के बाद जयपुर के उप महानिरीक्षक पुलिस डॉ. विष्णुकान्त के सुपरवीजन में एसीबी दौसा इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महेन्द्र कुमार शर्मा के निर्देशन में शिकायत का सत्यापन किया गया। उसके बाद शुक्रवार को पुलिस निरीक्षक नवल किशोर और टीम ने भरतपुर में दलाल कपिल शर्मा को परिवादी से 37200 रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। मामले में डीटीओ दिलीप तिवारी और सहायक प्रशासनिक अधिकारी अनिल कुमार को भी गिरफ्तार किया है। एसीबी टीम आरोपियों के निवास एवं अन्य ठिकानों की तलाशी कर रही है। एसीबी ने मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है। एसीबी के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने प्रदेशवासियों से अपील की है की भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1064 और व्हाट्सएप हेल्पलाइन 9413502834 पर भ्रष्टाचार के संबंध में शिकायत कर सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack