मंत्री खाचरियावास ने कांग्रेसी नेताओं को दी नसीहत, एक दूसरे को निपटाने की बजाए पार्टी को मजबूत करने का करें काम।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजधानी दिल्ली में 4 सितंबर को होने वाली राष्ट्रव्यापी रैली की तैयारियों को लेकर बुलाई गई जयपुर शहर कांग्रेस की बैठक में मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने किसी का नाम लिए बगैर शहर कांग्रेस के नेताओं और शहरी सरकार के जनप्रतिनिधियों पर निशाना साधा। मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि पद मिलने के बाद कुछ लोग खुद को बड़ा समझने लगते हैं और एक दूसरे को निपटाने में व्यस्त रहते हैं एक दूसरे को निपटाने में ही अपनी शान समझते हैं। ऐसे लोगों को मैं चेतावनी देता हूं कि ऐसा करने वालों का इलाज करना अच्छी तरह से जानता हूं, अगर मैं किसी को बना सकता हूं तो उसको हटा भी सकता हूं। खाचरियावास ने कहा कि एक दूसरे को निपटाने की बजाए पार्टी को मजबूत करने का काम करें। खाचरियावास ने पार्षदों का नाम लिए बगैर कहा कि कुछ लोग किसी का मकान तुड़वाने के लिए जेडीए और नगर निगम में फोन कर देते हैं और यह भी नहीं देखते कि जिसका मकान तुड़वा रहे हैं वो कांग्रेस का आदमी है। कांग्रेस का वोटर है, वो व्यक्ति मुझे फोन करता है और फिर मैं उस व्यक्ति का मकान टूटने से बचाता हूं। उन्होंने कहा कि किसी का मकान तुड़वाना बहुत आसान काम है लेकिन किसी का मकान बनवाना बहुत मुश्किल।
गैर हाजिर रहे नेताओं पर भी जताई नाराजगी।
बैठक में मंत्री महेश जोशी, विद्याधर नगर से प्रत्याशी रहे सीताराम अग्रवाल, सांगानेर से कांग्रेस प्रत्याशी पुष्पेंद्र भारद्वाज और मालवीय नगर से कांग्रेस प्रत्याशी रही अर्चना शर्मा के बैठक में गैरहाजिर रहने पर भी मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने नाराजगी जाहिर की और कहा कि नेता न तो खुद आए ना ही अपने कार्यकर्ताओं को बैठक में भेजा। बैठक को गंभीरता से लेना चाहिए।
जयपुर शहर से जाएंगे 5000 कार्यकर्ता।
बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए खाचरियावास ने कहा कि जयपुर शहर कांग्रेस से 5000 कार्यकर्ता दिल्ली जाएंगे। हर विधानसभा क्षेत्र से 500 कार्यकर्ताओं को दिल्ली ले जाने का लक्ष्य रखा गया है। खाचरियावास ने कहा कि आज देश में महंगाई सबसे बड़ा मुद्दा है लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ने चुनी हुई सरकारों को गिराने का अभियान शुरू कर रखा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack