राजस्थान के कॉलेजों में आज होगी मतगणना, प्रदेशभर की यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को मिलेगा नया छात्र संघ।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान मे शुक्रवार को छात्रसंघ चुनाव की वोटिंग के बाद शनिवार को मतगणना के बाद प्रदेशभर की सरकारी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को नया छात्र संघ अध्यक्ष मिलेगा। प्रदेश की 15 यूनिवर्सिटी और 439 सरकारी कॉलेजों में हुए छात्र संघ चुनाव को लेकर सुबह 10 बजे से मतगणना शुरू होगी। पहली बार ऐसा हुआ है कि राजस्थान विश्वविद्यालय के कैंपस के बाहर कॉमर्स कॉलेज में मतगणना की जाएगी। इस मतगणना का जिम्मा यूनिवर्सिटी के 107 कर्मचारियों पर होगा। किसी भी आपत्ति से निपटने के लिए इस बार हर टेबल पर कैमरा इनस्टॉल किया जाएगा।
कॉमर्स कॉलेज में कड़ी सुरक्षा के बीच मतगणना की जाएगी।
राजस्थान यूनिवर्सिटी की ओर से यहां मतगणना के लिए 107 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। वहीं इस दौरान कॉमर्स कॉलेज में उम्मीदवारों और उनके एजेंटों के अलावा किसी अन्य का प्रवेश पूरी तरह वर्जित रहेगा। मतगणना के दौरान भी भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रहेगा। इस बार यूनिवर्सिटी प्रशासन की ओर से पूरी मतगणना की वीडियोग्राफी करवाई जाएगी। एजेंटों और उम्मीदवारों की मौजूदगी में मतपेटियों की सील को खोला जाएगा।
हर टेबल पर कोऑर्डिनेटर और एक ऑब्जर्वर।
इस संबंध में मुख्य चुनाव अधिकारी हर्ष द्विवेदी ने बताया कि कॉमर्स कॉलेज में मतगणना के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। ये वही स्थान है जहां लोकसभा और विधानसभा चुनावों की मतगणना होती आई है। सुबह 8:30 बजे मतगणना को लेकर काउंटिंग टीम को मतगणना का तरीका समझाया जाएगा। इसके बाद 10:00 बजे से मतगणना शुरू की जाएगी। इस दौरान एक मतपत्र को दो लोग वेरीफाई करेंगे। हर टेबल पर एक कोऑर्डिनेटर और एक ऑब्जर्वर होगा। प्रत्येक कैंडिडेट को मिले वोटिंग बैलट पेपर की 50-50 की गड्डियां तैयार की जाएंगी। जिस पर एक टेबल पर मौजूद चार सदस्यों की टीम साइन करेगी। आखिर में इन्हें पदों के अनुसार अकाउंट कर अलग-अलग रंगों के डिब्बों में रखा जाएगा। यहां प्रत्याशियों के बैठने की अलग व्यवस्था की गई है। काउंटिंग टेबल और प्रत्याशियों या उनके एजेंटों के बीच बैरिकेडिंग की गई है। मतगणना के तुरंत बाद जीते हुए प्रत्याशी का नाम घोषित कर उन्हें शपथ दिलाई जाएगी। हालांकि शपथ राजस्थान विश्वविद्यालय प्रांगण में दिलाई जाएगी या कॉमर्स कॉलेज में इस पर अभी भी असमंजस की स्थिति बनी हुई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack