राजस्थान फार्मेसी काउंसिल में अब ऑन-लाइन प्रक्रिया के तहत जारी होंगे पंजीयन प्रमाण पत्र।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
अब राजस्थान फार्मेसी काउंसिल से आज से राजस्थान राज्य से उत्तीर्ण आवेदको को बिना उपस्थित हुए आन-लाइन प्रक्रिया के तहत जारी किये जायेगे पंजीयन प्रमाण पत्र। राजस्थान फार्मेसी काउंसिल की ओर जारी प्रेस रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान फार्मेसी काउंसिल द्वारा आज सोमवार को काउंसिल अध्यक्ष डॉ. ईश मुंजाल, उपाध्यक्ष महावीर सोगानी, अजय अग्रवाल एवं रजिस्ट्रार नवीन संघी समस्त काउंसिल स्टाफ के साथ कनिषा पंजीयन संख्या 64796 एवं ज्ञानेश्वर टिलावत पंजीयन संख्या 64752 को डिजिटल हस्ताक्षरयुक्त पंजीयन प्रमाण पत्र एवं परिचय पत्र दिया गया। राजस्थान फार्मेसी काउंसिल द्वारा 1 जून 2022 से 31 जुलाई 2022 तक कुल 3000 फार्मासिस्टों पंजीकृत किया जा चुका है। राजस्थान फार्मेसी काउंसिल 1 अगस्त 2022 से जिन आवदेको द्वारा समस्त शैक्षणिक योग्यता राजस्थान राज्य से प्राप्त की गई है उन्हें एक सप्ताह के अन्दर पंजीकृत कर पंजीयन प्रमाण पत्र जारी कर दिया जायेगा। काउंसिल जल्द ही राजस्थान के अलावा अन्य राज्यो से उत्तीर्ण आवेदको के कालेज सत्यापन को भी आन-लाइन करने जा रही है, जिससे आवेदनों का निस्तारण समय कम होगा। राजस्थान फार्मेसी काउंसिल देश की प्रथम काउंसिल होगी, जो कि पूर्णतः कागज रहित कार्य की तरफ अग्रसर है एवं जल्द ही समस्त कार्य पूर्णतः आनलाइन होगा। 1 अगस्त 2022 से मोवाइल एप के द्वारा भी आवेदक अपने काउंसिल सम्बन्धी कार्यो हेतु आवेदन प्रस्तुत कर सकता है। जिसमे दस्तावेजो के अपलोड इत्यादि सभी की सुविधा है। राजस्थान फार्मेसी काउंसिल देश मे प्रथम काउंसिल है जिसने यह प्रक्रिया लागू की है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack