नाबालिग बालिका के शादी की सूचना पर CWC टीम पहुंची घर, परिजनों को किया पाबंद।

हनुमानगढ़-विश्वास कुमार।
हनुमानगढ़ मे बुधवार को बाल कल्याण समिति न्यायपीठ बैंच मजिस्ट्रेट जितेन्द्र गोयल ,सदस्य अनुराधा सहारण सहारण के नेतृत्व में टिब्बी क्षेत्र के एक गांव में नाबालिग की होने वाली शादी को लेकर बालिका के परिवारजनों माता पिता दादी को 18 वर्ष पूर्ण होने तक शादी नही करने के लिए पाबंद किया गया है। गोयल ने बताया कि मंगलवार को राज्य बाल आयोग व जिला प्रशासन से दूरभाष पर नाबालिग बालिका की जबरन शादी करवाने की सूचना मिलने के पश्चात सयुंक्त टीम बनाकर आज सयुंक्त टीम बना कार्यवाही की गई और पाबंद करते हुए आगामी दिनों तक बालिका का स्थान परिवर्तन नही करने, यहीं रखा जाने को लेकर पाबंद किया। बाल कल्याण न्यायपीठ व संबंधित विभाग कभी भी औचक निरीक्षण कर सकते है। बालिका घर ही मिलनी चाहिए यह इसलिए किया गया है कि बालिका को अन्यत्र ले जाकर शादी न कर पाए और घर पर भी अभी कोई शादी जैसा कोई माहौल नज़र नही आया। बालिका और परिवारजनों ने बताया कि एक व्यक्ति द्वारा हमारी बच्ची को परेशान करने को लेकर झूठी शिकायत की जा रही है। उसके विरुद्ध गंगानगर क्षेत्र में इस सबंध में पुलिस को प्रार्थना पत्र दे रखा है। टीम में  तहसीलदार टिब्बी हरीश टाक ,चौकी प्रभारी  विजेंद्र कुमार,हल्का गिरदावर देवीलाल गोदारा,पटवारी रमेश निमिवाल ,महिला अधिकारिता विभाग से दाखा देवी, मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack