व्यापारी को फोन कर मांगी 10 लाख की फिरौती, 3 लाख वसूलने पहुंचे तो तीन बदमाश चढे पुलिस के हत्थे।

श्रीगंगानगर- राकेश मितवा।
श्रीगंगानगर में इन दिनों व्हाट्सएप कॉल के जरिए फिरौती मांगने का खेल जोरों पर चल रहा है। विभिन्न कुख्यात गैंगस्टरों के नाम से बदमाश शहर के व्यापारियों को फोन कर  फिरौती मांग रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में शहर के एक व्यापारी को लॉरेंस के गुर्गे गोल्डी बराड के नाम से 10 लाख रुपए की फिरौती मांगने के आरोप में तीन युवकों को गिरफ्तार किया गया है। जिला पुलिस की टीम ने जवाहर नगर थाने में दर्ज इस मामले में हरियाणा के अबूबशहर निवासी 25 वर्षीय अक्षय बिश्नोई श्रीगंगानगर के तरुण कुमार व चुनावढ थाना क्षेत्र के हंसराज नायक को गिरफ्तार किया है। इनके पास से फिरौती की मांग में इस्तेमाल किया गया मोबाइल फोन भी बरामद किया गया है। बता दे, कि तिलक नगर निवासी टायर व्यापारी कैलाश अग्रवाल ने शनिवार को थाने में पहुंचकर परिवार दिया था कि उनको देर रात मलेशिया के कोड से व्हाट्सएप कॉल आई थी और कॉलर ने स्वयं को गोल्डी बराड़ का आदमी बताते हुए 10लाख रुपए की मांग की थी। पैसे नहीं देने पर परिवार को जान से मारने की धमकी दी। व्यापारी ने इस मामले को लेकर जवाहर नगर थाना में मामला दर्ज कराया। मुकदमा दर्ज करने के बाद आरोपियों को पकड़ने के लिए सीओ सिटी अरविंद बैरड के नेतृत्व में जवाहर नगर एसएचओ नरेश निर्वाण, सदर थानाधिकारी कुलदीप , DST प्रभारी कश्यप सिंह की टीम गठित की। टीम ने मामला दर्ज होने के 3 घंटे में ही मुखबिर के जरिये तीन आरोपियों को जस्सा सिंह मार्ग से गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने स्वीकारा कि उन्होंने अबोहर के आरजू बिश्नोई के साथ मिलकर गैंगस्टर गोल्डी बराड़ का नाम लेकर शहर के कई व्यापारियों को सोशल मीडिया से कॉल करके लाखों रुपए की फिरौती मांगी थी। इन आरोपियों में हंसराज नायक स्वयं को रेती यूनियन का अध्यक्ष बता रहा। वही तरुण नगर परिषद के पूर्व सभापति का पोता है. इन आरोपियों ने जिस आरजू बिश्नोई के नाम से फिरौती मांगने की बात कही है वह आरजू बिश्नोई टाटिया ग्रुप के अस्पताल पर फायरिंग करने के मामले में भी वंचित है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack