हनीट्रैप में फंसा शराब ठेकेदार, पुलिस ने 5 महिलाओं सहित 8 जनों को किया गिरफ्तार।

हनुमानगढ़-विश्वास कुमार।
हनुमानगढ़ मे शराब ठेकेदार और उसके दो आदमी रात करीब 2 बजे दो महिलाओं को बस स्टैंड पर छोड़ने के लिए पहुंचे तो वहां पहले से मौजूद बदमाशों ने जबरन उनको अपनी गाड़ी में घसीटने का प्रयास किया। ठेकेदार तो किसी तरह छुड़ाकर वहां से भाग गया, लेकिन उसके 2 आदमियों को बदमाश गाड़ी में डालकर ले गए।इसके बाद फोन कर 5 लाख रुपए की मांग की। पैसे नहीं देने पर रेप केस में फंसाने की धमकी देने लगे। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने 5 महिलाओं सहित 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। मामला हनुमानगढ़ जिले के भादरा थाना इलाके का है। एसपी डॉक्टर अजय सिंह ने बताया कि 17 सितंबर को भादरा थाने रोहताश कुमार पुत्र धन्नाराम जाट निवासी घोटड़ा खालसा मामला दर्ज कराया। रिपोर्ट में बताया कि उसका कुंज में शराब का ठेका है। जिस पर रूपवीर पुत्र रूपराम जाट निवासी बोझला सेल्समैन का काम करता है। मेरे पास गगनदीप उर्फ माही का फोन आया वह और एक लड़की ने ठेके पर आने की बात कही। इसके बाद रात 11 बजे के आस-पास माही और एक अन्य लड़की पलक निवासी सिरसा शराब ठेके पर आ गई। उस समय ठेके पर मैं, मेरा सेल्समैन रूपवीर और मैनपाल नायक निवासी कालवास थे । रात करीब 2 बजे दोनों महिलाओं ने कहा कि हमारे जानकार डूंगराना बस स्टैंड पर आए हुए हैं आप वहां तक छोड़ आओ। इस पर हम तीनों कैम्पर गाड़ी लेकर उनको छोड़ने के लिए गए तो आगे एक हरियाणा नम्बर गाडी खडी थी । हमने जैसे ही दोनों महिलाओं को नीचे उतारा तो उस गाड़ी से 3 महिलाएं और 3 पुरुष उतरे और हमारे साथ जोर जबरदस्ती करने लगे। हमें पकड़कर गाड़ी में डालने की कोशिश की। मैं छुड़ाकर भाग गया, लेकिन रूपवीर और मैनपाल को गाड़ी में डालकर अपने साथ ले गए। दोनों को बंधक बना रखा है। इसके बाद रूपवीर के मोबाइल से मेरे और मेरे छोटे भाई राकेश के मोबाइल पर बार-बार फोन कर उनको छोड़ने के बदले 5 लाख रुपए की मांग कर रहे हैं। रुपए नहीं देने पर रेप के झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहे हैं। पुलिस ने तुरन्त मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी।
बदमाश ऐसे आए पकड़ में।
एसपी डॉ. अजय सिंह के निर्देश पर भादरा थाना प्रभारी रणवीर सिंह के सुपरविजन में एसआई राकेश गोदारा, कॉन्स्टेबल श्रवण, सुभाष, मदन, कुमारी रेखा, सुशीला, रामनिवास, सीताराम, योगेश कुमार को किडनैपर की गाड़ी के तलाश में भेजा। इधर, डीएसटी टीम सेक्टर नोहर के सहयोग से जरिये मुखबिर से सूचना मिली कि बदमाश रघुवीर और मैनपाल को लेकर सिरसा बाइपास भादरा से दूध डेयरी के बीच खड़े हैं और फिरौती राशि प्राप्त करने का इंतजार कर रहे हैं।इसके बाद पुलिस ने गाड़ियों का घेरा देकर सभी आरोपियों को हिरासत में लिया और किडनैप किए गए दोनों युवकों को छुड़ा लिया।
इनको किया गिरफ्तार।
साहिल (26) पुत्र प्रेम कुमार जाट निवासी बनगांव, फतेहाबाद हरियाणा, अजय कुमार (22) पुत्र ओमप्रकाश मेघवाल निवासी चैतनगढ़ पट्टी वार्ड 1 सिरसा, सतपाल सिंह (19) पुत्र सोनू सिंह रायसिक्ख निवासी भंगूर सिरसा, उशा उर्फ सुमन (24) पत्नी कुलदीप रायसिक्ख निवासी कुतावढ़ राणिया सिरसा हाल गली 1 परमात कॉलोनी पुराना डेरा के पास सिरसा, सीमा रानी (25) पत्नी स्व. जीतराम / जस्सु उर्फ सतपाल भार्मा निवासी गली 1 परमात कॉलोनी पुराना डेरा के पास सिरसा, गगनदीप कौर उर्फ माही (26) पत्नी विकास रायसिक्ख निवासी केलनियां पीएस सदर सिरसा, सिरसा, भोली रानी (45) पत्नी पम्मा उर्फ सोनू रायसिक्ख निवासी भगूर पुलिस थाना राणिया हरियाणा, पूजा उर्फ पलक (20) पुत्री गुरप्रीत सिंह निवासी मकान नम्बर 09 रतननगर पटियाला हाल गली 10 पुराना डेरा के पास सिरसा के रूप में हुई। हनीट्रैप गैंग से एक गाड़ी भी जब्त की गई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack