राजस्थान के 69 हजार से अधिक विद्यालयों में स्वच्छता पखवाड़े में बच्चे करेंगे कई गतिविधियां।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राज्य के समस्त राजकीय विद्यालयों में 15 सितम्बर तक स्वच्छता पखवाड़े का आयोजन किया जा रहा है। 1 सितम्बर से 15 सितम्बर तक चलने वाले इस पखवाड़े में कई प्रकार की गतिविधियां किया जाना निर्धारित है।समग्र शिक्षा के राज्य परियोजना निदेशक एवं आयुक्त स्कूल शिक्षा डॉ. मोहन लाल यादव ने बताया कि भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार इन 15 दिनों में स्वच्छता शपथ, स्वच्छता जागरूकता, सामुदायिक सहभागिता, हरित विद्यालय, स्वच्छता सहभागिता, हाथ धुलाई, व्यक्तिगत स्वच्छता, विद्यालय स्वच्छता प्रदर्शनी, स्वच्छता कार्यवाही दिवस मनाए जा रहे हैं। इन दिवसों के दौरान बच्चों, शिक्षकों तथा समुदाय को विद्यालय व घर में स्वास्थ्यप्रद-स्वच्छ वातावरण विकसित करने के लिए प्रोत्साहित व प्रेरित किया जा रहा है। विद्यालयों में बडे़ स्तर पर शौचालयों, कमरों, खिड़कियों, पानी की टंकियों, झाड़ियों आदि की साफ-सफाई की जा रही है।डॉ. यादव ने बताया कि इस दौरान प्लास्टिक से होने वाले नुकसान, खुले में शौच से मुक्ति, जंगलों की कटाई के दुष्प्रभावों, पर्यावरण को नुकसान पहुँचाने वाले क्रियाकलापों की रोकथाम, जल संरक्षण आदि के बारे में जागरूकता विकसित की जायेगी। जल-जनित बीमारियों के बारे में भी जागरूक किया जायेगा। स्वच्छता संबंधी विषयों पर निबंध, प्रश्नोत्तरी, चित्रकला, वाद-विवाद, कविता/नारा लेखन का आयोजन किया जायेगा। डा. यादव ने बताया कि पखवाड़े के अंतिम दिन 15 सितम्बर को विभिन्न प्रतियोगिताओं में विजेता छात्र-छात्राओं को पुरस्कार व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया जायेगा। पखवाडे़ की श्रेष्ठ गतिविधियों की फोटोग्राफ व बच्चों द्वारा तैयार संदेशों के आधार पर श्रेष्ठ प्रविष्टियों को भारत सरकार की वेबसाइट पर अपलोड किया जायेगा। डॉ. यादव ने उम्मीद जताई कि राज्यभर के स्कूलों में 15 दिनों तक चलने वाली ये गतिविधियां स्कूली बच्चों, शिक्षकों, अभिभावकों को एवं इनके सहयोग से स्थानीय निवासियों को भी स्वच्छता व स्वास्थ्यप्रद वातावरण बनाने के लिए बड़ी संख्या में प्रेरित करेंगी। जिससे राज्य भर में स्वच्छता के प्रति अच्छा माहौल बनेगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack