नवोदय विद्यालय में 7वीं कक्षा की छात्रा लटकी मिली फंदे से, तीन दिन पहले ही आई थी स्कूल।

बांसवाड़ा ब्यूरो रिपोर्ट।
बांसवाड़ा जिले के बुढ़वा जवाहर नवोदय विद्यालय में 7वीं की छात्रा के कमरे में फंदा लगाकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। शव को महात्मा गांधी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है। बताया जा रहा है कि बालिका को 10 सितंबर को ही उसे परिजन विद्यालय नें छोड़कर गए थे। जानकारी के अनुसार आनंदपुरी क्षेत्र के कांगलिया की रहने वाली पुष्प लता पुत्री दिनेश चंद की डेड बॉडी को फिलहाल एमजी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है। घटना के बाद बागीदौरा एसडीएम छोटू लाल शर्मा के साथ ही सीआई कलिंजरा व अन्य अधिकारियों ने स्कूल में जाकर पड़ताल भी शुरू कर दी है। बुढ़वा नवोदय विद्यालय के प्रधानाचार्य जेसी जोरा ने बताया कि बालिका को उसके पिता दिनेश चंद और मां 10 सितंबर को विद्यालय में छोड़ कर गए थे। उस समय भी वह रो रही थी और विद्यालय में नहीं रहने की बात कह रही थी। मंगलवार दोपहर करीब 1:30 से 1:45 के बीच जब सारे बच्चे खाना खाने गए थे। इस दौरान उसने अपने कमरे में फंदा लगा लिया। दूसरे बच्चे खाना खाकर जब कमरे में लौटे तब घटना की जानकारी हुई। ऐसे में उसे तत्काल बागीदौरा अस्पताल भिजवाया गया। बालिका को बागीदौरा अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया। जहां चिकित्सक ने जांच के बाद बालिका को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजनों को घटना की जानकारी दी। जब परिजन बागीदौरा अस्पताल पहुंचे उनकी सहमति के बाद डेड बॉडी को महात्मा गांधी अस्पताल में रखवाया गया है। बुधवार को अधिकारियों की मौजूदगी में मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack