आखिर पूर्व विधायक रतन देवासी के खिलाफ हुआ मामला दर्ज, एक महिला और एक पत्रकार को किया प्रताड़ित।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
अगस्त माह के अंतिम सप्ताह में एक पीड़ित महिला ने राजधानी जयपुर में आकर प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए कांग्रेस के पूर्व विधायक,रानीवाड़ा, रतन देवासी पर संपत्ति हड़पने व जबरदस्ती शारीरिक संबंध के लिए दबाव बनाने का गंभीर आरोप लगाया था। जिसे बहुत से मीडिया ने पीड़ित महिला की खबरों को प्रकाशित व प्रसारित भी किया था। पीड़ित महिला ने पूर्व कांग्रेसी विधायक रतन देवासी को एक चरित्रहीन घुसखोर नेता बताया।उसकी लम्बे समय से मुझ पर गंदी निगाह है। वह मेरा लंबे समय से मानसिक व निगाहो से देह शोषण कर रहा है।देवासी ने मुझे शारिरिक रूप से प्रताड़ित कर मेरे साथ सामाजिक मर्यादा को लाघते हुए कई बार छेड़छाड़ व गलत काम करने का प्रयास किया। आगे महिला ने कहा कि मै उच्च शिक्षा प्राप्त महिला हूं। मै इस बात को दबा नहीं सकती, क्योंकि विधायक रतन देवासी समाज व राजनीति से जुड़ा आदमी है। इसलिये उसका काला चरित्र दुनिया के सामने आना जरूरी है। मैंने अपने साथ हुई घटना के मामले में अदालत के मध्यम से माउंटआबु थाने में धारा 354, 354 क- 354 ख- 384- 452- 506- 509 के अंतरगत मुकदमा दर्ज किया है।देश व समाज हित में ऐसे चरित्रहीन नेता का चेहरा दुनिया के सामने उजागर होना चाहिए। बता दे, कि इसी मामले की वीडियो खबर हटाने को लेकर देवासी का फोन पर भाई बताने वाले जालम देवासी ने वरिष्ठ पत्रकार न्यू इंडिया खबर के एडिटर एवं पीपीआई पत्रकार संगठन के प्रदेश अध्यक्ष सन्नी आत्रेय को भद्दी भद्दी गालियों के साथ घर में घुसकर मारने की धमकी भी दी थी। इस मामले में सन्नी आत्रेय ने थाने व पुलिस महानिदेशक राजस्थान को शिकायत पत्र के जरिए अवगत करा दिया है जिसकी जांच चल रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack