बजट घोषणाओं की समीक्षा बैठक में मंत्री टीकाराम ने बजट घोषणाओं के क्रियान्वयन पर दिया जोर।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री  टीकाराम जूली ने विभागीय बजट घोषणाओं के कार्यों का शीघ्र क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए तथा क्रियान्वयन में आ रही समस्याओं के बारे में विस्तार से जानकारी ली। जूली अंबेडकर भवन स्थित सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सभागार में वर्ष 2019-2020 से 2022-23 की विभागीय बजट घोषणाओं के लम्बित प्रकरणों और कार्यों के क्रियान्वयन के संबंध में आयोजित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि बजट घोषणाओं के क्रियान्वयन के संबंध में कार्यों को पूर्ण करने के लिए समय सीमा निर्धारित करते हुए कार्यवाही प्रारम्भ करे। उन्होंने बजट घोषणाओं की क्रिन्यान्विति में आ रही समस्याओं की जानकारी अधिकारियों से ली। उन्होंने कहा कि कुछ कार्यों में आ रही बाधाओं को विभागीय स्तर पर आपसी समन्वय के साथ दूर करने का प्रयास किया जाए। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सचिव डॉ. समित शर्मा ने बताया कि बजट घोषणाओं के कार्यों में से अधिकांश कार्य पूर्ण किये जा चुके है। शेष घोषणाओं को पूरा करने का कार्य प्रक्रियाधीन है। चार वर्षों में कुल 58 बजट घोषणाएं विभाग से संबंधित थी, जिनमें से 35 घोषणाएं पूर्ण कर ली गई है। बैठक में निदेशक एवं संयुक्त शासन सचिव हरि मोहन मीना व अन्य विभागीय अधिकारी गण उपस्थित थे।
जामडोली में वृद्धाश्रम के लिए अतिरिक्त निर्माण कार्य के लिए एग्रीमेंट।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री द्वारा जामडोली स्थित सामाजिक न्याय संकुल परिसर में रिक्त भूमि पर 100 वृद्ध जनों के लिए अतिरिक्त निर्माण कार्य कराए जाने के संबंध में अपना घर आश्रम जामडोली के संरक्षक व संचालक तथा मंगलम बिल्डर्स के मध्य हुए एग्रीमेंट का हस्तांतरण किया गया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा वर्ष 2021-22 में बजट घोषणा की गई थी जिसके तहत जामडोली, जयपजुर स्थित संस्थान में वृद्धजनों को रखने की क्षमता 25 से बढ़ाकर 200 की जाए। इसी क्रम में यहां 28,500 स्क्वायर फीट क्षेत्र में मॉडल तकनीक के आधार पर भवन निर्माण किया जा रहा है। इस अवसर पर राज्य समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष अर्चना शर्मा, राजस्थान राज्य अल्पसंख्यक बोर्ड अध्यक्ष, रफीक खान, मंगलम बिल्डर्स के चेयरमैन एन के गुप्ता, फैमिली फाउण्डेशन के एम टी सुतरवाला, अपना घर आश्रम के अमिताभ कौशिक तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack