बच्चों की देखभाल और पढ़ाई को लेकर शासन सचिव गंभीर,लापरवाह कार्मिकों के खिलाफ लिया एक्शन।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के शासन सचिव डॉ. समित शर्मा ने अंबेडकर भवन स्थित निदेशालय में आयोजित वीडियो कांफ्रेंस में सभी अधिकारियों एवं कार्मिकों को निर्देश दिए कि विभागीय आदेशों की पालना समय पर किया जाना सुनिश्चित किया जावे अन्यथा कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के समस्त कार्यालयों में आमजन को समय पर राजकीय सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से अधिकारियों और कर्मचारियों की समय पर उपस्थिति एवं कार्य स्थलों, हॉस्टल स्कूल होम्स पर कार्मिकों अध्यापकों छात्रावास अधीक्षक आदि की उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा तैयार किया गया जिओ फैंस बेस्ड मोबाइल फोन आधारित अटेंडेंस मॉनिटरिंग सिस्टम Raj SSO AMS Mobile App माध्यम से दैनिक उपस्थिति दर्ज करने के निर्देश जारी किए गए हैं । उन्होंने बताया कि एक अगस्त 2022 को इस व्यवस्था को प्रभावी रूप से लागू किया गया है। अधिकारियों एवं कर्मचारियों की समय पर कार्य स्थलों पर उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए समय-समय पर सभी अधिकारियों एवं कार्मिकों को निर्देश जारी किए गए हैं। जिस की पालना में प्रतिदिन 2000 से अधिक अधिकारी एवं कर्मचारी रोजाना मोबाइल ऐप के माध्यम से अपने कार्यस्थल पर पहुंच कर मार्क इन एवं कार्यालय समय समाप्त हो जाने पर मार्कआउट करते हैं। डॉ शर्मा ने बताया कि निर्देशों की पालना नहीं करने पर विगत माह में युद्धवीर सिंह, छात्रावास अधीक्षक , राजकीय अंबेडकर छात्रावास बारां को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया। इसी प्रकार उपमा कुमारी, छात्रावास अधीक्षक, राजकीय सावित्री बाई फुले कन्या छात्रावास शाहपुरा, जयपुर, द्वारा समय पर उपस्थिति नहीं भिजवाने, आदतन विलंब से आने और बिना अनुमति समय से पूर्व छात्रावास छोड़ने एवं छात्रावास से अनुपस्थित रहने के कारण निलंबित कर दिया गया है। विनीता चौधरी, छात्रावास अधीक्षक, राजकीय अनुसूचित जाति कन्या छात्रावास, जामडोली जयपुर का आकस्मिक निरीक्षण करवाने के उपरांत छात्रावास अधीक्षक छात्रावास में उपस्थित नहीं पाई गई। समय-समय पर छात्रावास में जांच दल को भी भेजा गया, जिसमें यह पाया गया कि छात्रावास अधीक्षक छात्रावास में उपस्थित नहीं रहती है एवं समय पर मोबाइल ऐप के माध्यम से उपस्थिति भी नहीं भेजती है जिस को आधार मानते हुए तत्काल प्रभाव से विनीता, छात्रावास अधीक्षक को निलंबित कर दिया गया है। शासन सचिव ने कहा कि विभाग में अधिकारियों की स्थानांतरण सूची जारी किए जाने के पश्चात अधिकारियों द्वारा पद स्थापन पद को ज्वाइन नहीं किए जाने की स्थिति में भी और अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। इस क्रम में रुचि मौर्य, सहायक निदेशक के विरुद्ध भी कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए गए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack