सीएम गहलोत ने मैदान मे खिलाड़ियों के साथ खेली कबड्डी और हॉकी,किए करोड़ों के शिलान्यास और लोकार्पण।

उदयपुर/प्रतापगढ़ ब्यूरो रिपोर्ट।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रतापगढ़ एवं उदयपुर के गोगुन्दा (सूरण गांव) में ब्लॉक स्तरीय राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल गतिविधियों का अवलोकन किया। उन्होंने दोनों ही जगहों पर विभिन्न विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने मैदान में खिलाड़ियों से मुलाकात की और उन्हें प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों में उम्र का कोई बंधन नहीं रखा गया। मैदान में हर वर्ग और बुजुर्ग से लेकर युवा खिलाड़ी एक साथ बिना किसी भेदभाव के हिस्सा ले रहे हैं। इससे गांवों में आपसी मेलजोल और भाईचारे का माहौल बना है। गहलोत ने कहा कि राजीव गांधी के नाम से यह ओलंपिक खेल, देश ही नहीं दुनिया में एक नई और अनूठी पहल है। जल्द ही शहरों में भी बड़े स्तर पर खेल आयोजन होंगे। उन्होंने कहा कि राजस्थान में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है और हम ग्रामीण ओलंपिक खेलों के माध्यम से इन प्रतिभाओं को आगे लाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि खेल स्टेडियम के साथ-साथ खेल छात्रावास बनाने की दिशा में विचार किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार प्रदेश में वर्षा अच्छी हुई, जिससे रबी की फसल का रकबा भी बढ़ा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 8 लाख किसानों के बिजली बिल शून्य हो गए हैं। इससे उन्हें आर्थिक संबल मिला है। उन्होंने कहा कि सामाजिक सुरक्षा सरकार का ध्येय है। इसी के तहत प्रदेश में एक करोड़ बुजुर्गों को सामाजिक सुरक्षा के तहत पेंशन दी जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में शिक्षा के लिए 3 साल में 211 महाविद्यालय खोले हैं, जिनमें 90 कन्या महाविद्यालय है। साथ ही, जिस विद्यालय में 500 बालिकाएं अध्ययनरत हैं, वहां महाविद्यालय शुरू किया जाएगा।
चंहुमुखी प्रगति कर रहा राजस्थान।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य, आधारभूत ढांचा विकास सहित समस्त क्षेत्रों में कार्य कर रही है। महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों के माध्यम से किसान एवं मजदूरों के बच्चे भी अब अंग्रेजी माध्यम में पढाई कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से आमजन को 10 लाख रूपये तक का ईलाज उपलब्ध कराया है। प्रदेश में दवाईयां, जांच एवं उपचार समस्त चिकित्सा सुविधाएं निःशुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। साथ ही चिरंजीवी योजना में 5 लाख रूपये तक का दुर्घटना बीमा भी शामिल किया गया है।
महिला मुखियाओं को मिलेगा स्मार्ट फोन।
गहलोत ने बताया कि सरकार राज्य की एक करोड़ 35 लाख महिलाओं को मोबाईल फोन इन्टरनेट कनेक्शन के साथ उपलब्ध कराने जा रही है। राज्य सरकार ने हाल ही में इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना लागू कर 100 दिवस का रोजगार उपलब्ध कराकर बेरोजगारों को संबल प्रदान करने का प्रयास किया है।
लम्पी स्किन डिजीज रोकथाम में मजबूती से प्रयास।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गौवंश में फैल रहे लंपी स्किन डिजीज की रोकथाम के लिए राज्य सरकार मजबूती के साथ युद्ध स्तर पर हरसंभव प्रयास कर रही है। ऐलोपेथी के साथ ही आयुर्वेद व होम्योपैथी के माध्यम से भी उपचार किया जा रहा है।
हॉकी और कबड्डी खेल खिलाड़ियों को किया प्रोत्साहित।
गहलोत गोगुंदा के हुए समारोह के दौरान मैदान में भी पहुंचे। उन्होंने हॉकी और कबड्डी के खिलाड़ियों से मुलाकात की और खिलाड़ियों से हाथ मिलाकर परिचय किया। परिचय के बाद टॉस कराकर और हॉकी स्टिक से शॉट मारकर हॉकी मैच का शुभारंभ किया। कबड्डी मैदान पर भी टॉस करवाया और खुद कबड्डी खेलकर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया। इस मौके पर उन्होंने कार्यक्रम स्थल सूरण विद्यालय में स्टेडियम बनाने के लिए घोषणा की।
गैर-गवरी कलाकारों ने किया मुख्यमंत्री का स्वागत।
मुख्यमंत्री के गोगुंदा और प्रतापगढ़ के हेलिपेड पहुंचने पर मेवाड़ के पारम्परिक लोकनृत्य गैर और गवरी नृत्य के कलाकारों ने स्वागत किया। लोक कलाकारों ने थाली-मादल की स्वरलहरियों के बीच नृत्य कर समां बांधा। मुख्यमंत्री ने भी कलाकारों का उत्साहवर्धन किया। प्रतापगढ़ में हुए समारोह में विधायक रामलाल मीणा ने कहा कि ग्रामीण ओलंपिक खेलों का ऐतिहासिक आयोजन हो रहा है। इससे गांवों में खेलों का माहौल बना है। हम सभी मिलकर इस माहौल को आगे भी जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में क्षेत्र के विकास में कोई कमी नहीं रखी जा रही है। इस अवसर पर सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना, जनजाति क्षेत्रीय विकास मंत्री अर्जुन सिंह बामणिया, जिला प्रमुख इंदिरा देवी मीणा, धरियावद विधायक नगराज मीणा, पूर्व संसदीय सचिव नानालाल, गोगुन्दा में प्रभारी मंत्री रामलाल जाट, वल्लभनगर विधायक प्रीति शक्तावत, पूर्व मंत्री मांगीलाल गरासिया, पूर्व सांसद रघुवीर मीणा, पूर्व विधायक सज्जन कटारा सहित जनप्रतिनिधि, अधिकारी, खिलाड़ी एवं बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित रहे।
गोगुंदा में लोकार्पण व शिलान्यास।
-₹1.75 करोड़ रूपए की लागत से तैयार केजीबीवी नांदेशमा ब्लॉक सायरा के आवासीय भवन का लोकार्पण
-₹6.07 करोड़ रूपए की लागत से उदयपुर की 20 पंचायत समितियों में बनने जा रहे मेजर ध्यानचंद खेल स्टेडियम का शिलान्यास
-₹18.92 करोड रूपए की लागत से 88 ग्राम पंचायतों में खेल मैदान के विकास कार्यों का शिलान्यास
प्रतापगढ़ में लोकार्पण एवं शिलान्यास।
-₹4.14 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित डाइट प्रशिक्षण भवन का लोकार्पण
-₹2.80 करोड़ रूपए के बहुउद्देशीय खेल छात्रावास परिसर का शिलान्यास
-₹13 करोड़ रूपए के केसुंदा से भाटखेड़ा सड़क के सुदृढ़ीकरण एवं चौड़ाईकरण कार्य
-₹20 करोड़ रूपए के प्रतापगढ़ से बिलेसरी सड़क का सुदृढ़ीकरण एवं चौड़ाईकरण
-₹25 करोड़ रूपए के बड़ीसादड़ी-छोटीसादड़ी-नीमच रोड के सुदृढ़ीकरण एवं चौड़ाईकरण कार्य
-₹3 करोड़ रूपए के पण्डावा से मेहंदी खेड़ा सड़क सुदृढ़ीकरण एवं चौड़ाईकरण कार्य
-₹50 करोड़ रूपए लाख के कुलथाना से सालमगढ़ सड़क सुदृढ़ीकरण कार्य
-₹9 करोड़ रूपए के जाखम नदी पर पुलिया निर्माण के कार्य
-₹6 करोड़ रूपए के लोहागढ़ से देवला सड़क टू-लेनिंग के कार्य
-₹3 करोड़ रूपए के 50 बेड फील्ड हॉस्पिटल धरियावद का कार्य
-₹4.5 करोड़ रूपए की लागत के राजकीय कन्या महाविद्यालय भवन टीमरवा
-₹4.5 करोड़ रूपए की लागत के राजकीय महाविद्यालय भवन भचुंडा
-₹4.5 करोड़ रूपए की लागत के राजकीय महाविद्यालय भवन पीपलखूंट
-₹ 1 करोड़ रूपए की लागत के लालगढ़ लवकुश वाटिका इको टूरिज्म प्रोजेक्ट गौतमेश्वर महादेव का शिलान्यास किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack