धार्मिक यात्रा पर अकेले निकले सतीश पूनिया, बोले-सफर में धूप तो होगी, जो चल सको चलो, सभी हैं भीड़ में, तुम भी निकल सको तो चलो।

जैसलमेर ब्यूरो रिपोर्ट।
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ.सतीश पूनिया रविवार को पोकरण से रामदेवरा तक पदयात्रा पर निकले । उनके साथ भाजपा का कोई भी बड़ा नेता पदयात्रा में शामिल नहीं हुआ। डॉ.पूनिया ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया कि 'सफर में धूप तो होगी, जो चल सको चलो। सभी हैं भीड़ में, तुम भी निकल सको तो चलो। किसी के वास्ते राहें कहां बदलती है। तुम अपने आप को खुद ही बदल सको तो चलो।' आज 11 सितम्बर 2022 शक्ति स्थल-पोकरण से रामदेवरा पदयात्रा। जय बाबा री...जय-जय रूणिचा रा धणियां... डॉ.पूनिया ने पोकरण में जाज्वला माता मंदिर दर्शन कर गोमट गांव से पैदल यात्रा शुरू की, जो 8 किलोमीटर की यात्रा कर रामदेवरा पहुंचे। पूनिया के फैसले के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री तो नहीं पहुंचे, लेकिन बीच रास्ते स्थानीय नेता पदयात्रा में साथ जुड़े। पूनिया ने बाबा रामदेव के दर्शन कर देश-प्रदेश की खुशहाली और तरक्की की कामना की। भाजपा विधायक पब्बाराम विश्नोई, पोकरण के पूर्व विधायक शैतान सिंह राठौड़, छोटू सिंह, महेंद्र प्रताप पुरी महाराज, जिलाध्यक्ष चन्द्रप्रकाश शारदा, पूर्व जिलाध्यक्ष जुगल किशोर व्यास,नगर पालिका चेयरमैन मनीष पुरोहित, पंचायत समिति साकड़ा के प्रधान भगवत सिंह तंवर, भाजपा के रामदेवरा मंडल के पूर्व अध्यक्ष नारायण सिंह तंवर, भाजपा जिला मंत्री मदन सिंह राजमथाई, समाजसेवी गुलाब सिंह गढ़ी, पोकरण के पूर्व नगर मंडल अध्यक्ष बद्रीनारायण दाधीच पदयात्रा में शामिल हुए। डॉ.पूनिया ने ट्वीट के जरिए खुद ही कह दिया है कि- सफर में धूप तो होगी ही, जो चल सके वह चले। भी़ड़ में सभी हैं, तुम भी निकल सको तो चलो और किसी के वास्ते राहें कहां बदलती हैं। इन लाइनों के जरिए भाजपा  नेताओं को साफ मैसेज है कि किसी के कहने से पूनिया अपनी राहें और प्रोग्राम बदलने वाले नहीं हैं। जिसको चलना है, वह साथ चल सकता है। इससे पहले 6 सितंबर को डॉ.पूनिया, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और कैलाश चौधरी का पोकरण से रामदेवरा पदयात्रा पर निकलने वाले थे। सूत्रों के मुताबिक विरोधी गुट के प्रदेश के एक नेता की ओर से दिल्ली में पार्टी आलाकमान तक यह शिकायत पहुंचाई गई थी, कि उन्हें और पार्टी के कई नेताओं को पदयात्रा में शामिल होने के लिए आमंत्रित नहीं कहा गया। जिसके बाद यह पदयात्रा स्थगित कर दी गई थी। अब अमित शाह का दौरा होने के बाद डॉ. पूनिया पार्टी नेताओं को साथ नहीं लेकर निजी धार्मिक पदयात्रा की तर्ज पर ही पोकरण से रामदेवरा के लिए निकल पड़े। शेखावत और चौधरी भी उनके साथ नहीं थे। इससे पहले डॉ.पूनिया ने रविवार सुबह जोधपुर एयरपोर्ट पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को सी-ऑफ किया। इस दौरान उनके साथ प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी, सांसद राजेंद्र गहलोत, पीपी चौधरी, सीपी जोशी मौजूद रहे। जोधपुर में पाली सांसद पीपी चौधरी के आवास पर भाजपा टीम राजस्थान के साथ चाय पर चर्चा की गई। डॉ.पूनिया ने उसका भी ट्वीट पोस्ट किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack