कारागृह में बंदियों के लिए मनोवैज्ञानिक चिकित्सा शिविर का हुआ आयोजन।

हनुमानगढ़-विश्वास कुमार।
राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण,जयपुर के निर्देशानुसार सचिव,जिला विधिक सेवा प्राधिकरण,(अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश) संदीप कौर के निर्देशन में डॉ. ओ.पी.सोलंकी द्वारा जिला कारागृह में बंदियों के उतम मानसिक स्वास्थ्य हेतु मनोवैज्ञानिक चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। कारागृह में बंदियों को सामान्य से अधिक तनाव रहता है जिसका दुष्प्रभाव उनके शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य पर पडता है इसके लिए बंदियों को नियमित मनोवैज्ञानिक परामर्श एवं योग की आवश्यकता होती है। शिविर में बंदियों को तनाव प्रबंधन के उपायों से अवगत कराते हुए डॉ. ओ.पी.सोलंकी द्वारा दिनचर्या को नियमित रखते हुए अपनी सोच को धनात्मक रखकर भावनाओं पर नियंत्रण कर बंदी अपने मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य की रक्षा कर सकते है। इसके पश्चात उक्त शिविर में सचिव संदीप कौर द्वारा उपस्थित बंदियों को जानकारी देते हुए बताया गया कि तनाव के कारण न केवल मानसिक स्वास्थ्य पर खराब प्रभाव पडता है। बल्कि इसके कारण अनेक शारीरिक बीमारियां उत्पन्न होती हैं तथा बंदी नशे से दूर रहकर आपस में सहयोगात्मक व्यवहार पैदा कर एक दूसरे को नशा छोडने व मानसिक व शारीरिक संतुलन हेतु योगाभ्यास व आध्यात्मिक क्रियाएं कर अपनी दिनचर्या को व्यस्त रखकर अपने मानसिक स्वास्थ्य को उतम रख सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack