शारदीय नवरात्र स्थापना पर मंदिरों मे उमड़ी भीड़।

चित्तौड़गढ़-गोपाल चतुर्वेदी।
चित्तौड़गढ़ में माता रानी के सभी शक्तिपीठों पर नौ दिवसीय शारदीय नवरात्र शुरू होने के साथ ही सवेरे से ही भक्तों की लंबी-लंबी कतारें देखी गई। इसके साथ ही भक्तों की ओर से विशेष पूजा अर्चना भी की गई।चित्तौड़गढ़ जिले में नौ दिवसीय नवरात्रि के पर्व आज से शुरू हो गए जिसमें सभी शक्तिपीठों दुर्ग स्थित कालिका माता मंदिर, झांतला माता, आसावरा माता सहित अन्य शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना के साथ घट स्थापना की गई। जिसमें माता रानी के भक्तों की लंबी-लंबी कतारें देखने को मिली , वहीं कई पैदल यात्री माता रानी के दरबार तक पैदल चलकर पहुंचे। इसके महत्व के बारे में जानकारी देते हुए महंत चंद्र भारती जी महाराज ने बताया कि शारदीय नवरात्र का अपना एक अलग महत्व है। जिसमें पहले दिन से अगले 9 दिनों तक विशेष पूजा अर्चना करके अपनी मनोकामना को पूरा किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि इस नवरात्र पर्व से आगामी एक महीने दीपावली तक त्योहारों के समय माना जाता है। उन्होंने बताया कि नवरात्र के इन 9 दिनों में की गई पूजा का जल्दी फल मिलता है। उन्होंने बताया कि इस नवरात्रि स्थापना पर एक विशेष सहयोग बना है जो कि काफी दुर्लभ है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack