गलत सूचना देने पर सीडीपीओ मंडरायल को डीएम ने थमाई चार्जशीट।

करौली ब्यूरो रिपोर्ट।
जिला कलक्टर अंकित कुमार सिंह ने कहा कि समस्त विभागीय अधिकारी जिला जन अभियोग एवं सतर्कता समिति में दर्ज प्रकरणों को प्राथमिकता एवं गंभीरता से लेते हुये दर्ज प्रकरणों का शीघ्रता से निस्तारण करें। उन्होने कहा कि छोटे छोटे प्रकरणों को अपने स्तर पर ही निस्तारण करे ताकि जिला स्तर पर प्रकरण नही आयें। जिला कलेक्टर ने संपर्क पोर्टल एवं जनसुनवाई मे दर्ज प्रकरणों का समय पर निस्तारण नही करने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होने सहयोगिनी की भर्ती के पद के संबंध मे सुमित्रा देवी की शिकायत पर गलत सूचना भिजवाने पर तत्कालीन महिला एवं बाल विकास अधिकारी मंडरायल को चार्जशीट दिये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने समिति में कुल दर्ज 17 प्रकरणों में से 4 प्रकरणों का निस्ताण किया गया। जिला कलेक्टर ने शुक्रवार को कलेक्टेट स्थित भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र में आयोजित जिला जन अभियोग व सतर्कता समिति की बैठक को समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने राजस्थान संपर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों, मुख्यमंत्री कार्यालय से प्राप्त प्रकरण, मानवाधिकार आयोग से प्राप्त प्रकरण, ग्राम पंचायत, उपखंड स्तर एवं जिला स्तर पर जनसुनवाई के दौरान दर्ज प्रकरणों का प्राथमिकता से निस्तारण करते हुए समय पर रिपोर्ट भिजवाने के निर्देश दिये जिससे परिवादी को समय पर राहत मिल सके। जिला कलेक्टर ने बैठक मे सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभिंयता को उपस्थ्ति नही होने पर नोटिस जारी करने के निर्देश दिये।
जिला स्तर पर जनुसनवाई का किया आयोजन।
जिला कलक्टर अंकित कुमार सिंह ने राजीव गांधी सेवा केन्द्र मे जनसुनवाई भी की, जनसुनवाई के दौरान ग्रामीण व आमजन के द्वारा राजस्व, पुलिस, पेयजल, सीमाज्ञान, पत्थरगढी, अतिक्रमण, खातेदारी नामांकन, पट्टा वितरण, पीएम आवास योजना मे लाभ दिलवाने, पंचायतीराज से संबंधित, विद्युत, श्रम, सहकारिता आदि से संबंधित 45 प्रकरण दर्ज किये गये। जिला कलक्टर ने प्रकरणों को शीघ्र निस्तारण हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया।इसके साथ ही उन्होने समस्त जिला स्तरीय अधिकारी एवं उपखंड अधिकारियों को हिदायत दी कि वे आमजन से प्राप्त शिकायतों के निस्तारण में अविलम्ब और प्राथमिकता के साथ कार्यवाही करें तथा उनके निस्तारण के संबंध में की गयी कार्यवाही की सूचना को शीघ्रता से भिजवाने की व्यवस्था सुनिश्चित करें। बैठक में उपवन संरक्षक सुरेश मिश्रा,  अतिरिक्त जिला कलक्टर परसराम मीना,मुख्य कार्यकारी अधिकारी महावीर प्रसाद नायक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजेश मीना, एसीपी विनोद मीना, सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी धर्मेन्द्र मीना, सतर्कता शाखा के पवन शर्मा, डीएसओ रामसिंह मीना, एसीएम यशवंत मीना सहित कृषि, विद्युत, शिक्षा, चिकित्सा, पशुपालन सहित संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack