विकास कार्यों के लिए प्रदेश में नहीं आने दी जाएगी संसाधनों की कमी-सीएम गहलोत।

दौसा ब्यूरो रिपोर्ट
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार की जन केंद्रित नीतियों से राजस्थान लगातार विकास के मार्ग पर आगे बढ़ रहा है। प्रदेश की प्रगति के लिए बिना भेदभाव के सभी क्षेत्रों में विकास कार्यों हेतु बजट का आवंटन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा अपने विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए रखी गई सभी उचित मांगों पर सरकार सकारात्मक रूप से फैसले ले रही है।मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य में खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ने के लिए अपार संभावनाएं है। राज्य सरकार प्रदेश में नए खेल स्टेडियम, संसाधनों और अन्य खेल सुविधाएं खिलाड़ियों को उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों के जरिए ग्रामीण क्षेत्रों की खेल प्रतिभाएं सामने आ रही है। इन प्रतिभाओं को भविष्य में अनुभवी खेल प्रशिक्षकों से उच्च स्तरीय प्रशिक्षण दिलाया जाएगा। खेल और खिलाड़ियों के लिए संसाधनों की कमी नहीं आने दी जाएगी। उन्होने कहा कि जल्द ही शहरी ओलम्पिक खेलों का आयोजन किया जायेगा। गहलोत लालसोट ब्लॉक मुख्यालय पर राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल प्रतियोगिता के तहत आयोजित ब्लॉक स्तरीय प्रतिस्पर्द्धाओं के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण ओलंपिक की प्रतिभाएं भविष्य में अंतर्राष्ट्रीय पदक विजेता बनकर परिवार, गांव और प्रदेश का नाम रोशन करेंगी। प्रदेश में प्रतिवर्ष राजीव गांधी ग्रामीण खेलों का आयोजन करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय पदक विजेताओं के लिए राज्य सरकार द्वारा सम्मान राशि कई गुना बढ़ाई गई है। सरकारी नौकरियों में 2 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान करने के साथ 229 खिलाड़ियों को डीवाईएसपी रैंक तक की आउट-आफ-टर्न नियुक्तियां दी गई है। उन्होंने कहा कि खेल जगत में राजस्थान आगे बढ़े, इसके लिए हरसंभव प्रयास किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण ओलंपिक में 30 लाख खिलाड़ियों ने रजिस्ट्रेशन कराया। इनमें लगभग 10 लाख महिला खिलाड़ी है। 
राज्य सरकार लम्पी स्किन डिजीज से पशुधन को बचाने के लिए गंभीर।
मुख्यमंत्री ने कहा कि लम्पी स्किन डिजीज संक्रमण पर नियंत्रण करने के लिये राज्य सरकार द्वारा हरसंभव प्रयास किये जा रहे है। राज्य सरकार द्वारा अपने संसाधनों का उपयोग करने के साथ-साथ पशुधन से जुड़े समाज के विभिन्न तबकों का सहयोग भी लम्पी स्किन डिजिज के विरूद्ध लड़ाई में लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को लम्पी स्किन डिजीज को राष्ट्रीय आपदा घोषित करना चाहिए, जिससे गौवंश के संक्रमण से बचाव के लिए बेहतर प्रबंधन किया जा सके। 
ईआरसीपी को मिले राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा।
गहलोत ने कहा कि पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना (ईआरसीपी), पूर्वी राजस्थान के 13 जिलों में पेयजल तथा सिंचाई जल की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए एक महत्वपूर्ण योजना है। प्रधानमंत्री ने अपनी कई चुनावी सभाओं में इसे राष्ट्रीय परियोजना घोषित कर 13 जिलों को पानी उपलब्ध करवाने की घोषणा की थी। उन्होने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा इसे राष्ट्रीय परियोजना घोषित करने में अनावश्यक देरी से योजना की लागत बढ़ेगी तथा प्रदेशवासियों पर अतिरिक्त बोझ पड़ेगा।
शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान बढ़ रहा आगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान अग्रणी राज्य बनकर उभर रहा है। प्रदेश के किसी विद्यालय में 500 छात्राओं का नामाकंन होने पर वहां कन्या महाविद्यालय खोलने का निर्णय राज्य सरकार द्वारा लिया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के विकास के लिए संकल्पित होकर कार्य कर रही है। दौसा जिले में मेडिकल कॉलेज, लालसोट में जिला चिकित्सालय खोला गया है। समारोह में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा ने कहा कि राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में हर तबके का तथा हर क्षेत्र हेतु विकास कार्य किए हैं। शिक्षा, स्वास्थ्य से लेकर बिजली और उत्कृष्ट सड़क तंत्र के निर्माण में आज राजस्थान अन्य राज्यों से कहीं आगे है। पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में राजस्थान ने हर क्षेत्र में अभूतपूर्व प्रगति की है। इस अवसर पर सार्वजनिक निर्माण विभाग के मंत्री भजन लाल जाटव, महिला बाल विकास मंत्री ममता भूपेश, बांदीकुई विधायक गजराज खटाना, महुआ विधायक ओम प्रकाश हुडला सहित विभिन्न जिला अधिकारी, खिलाड़ी तथा बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack