दो वार्डों में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में की जाएगी लेबर सेस की शत प्रतिशत वसूली।

हनुमानगढ़-विश्वास कुमार।
हनुमानगढ़ जिले में अब बकाया लेबर सेस की वसूली को लेकर पायलट प्रोजेक्ट के रूप में प्रत्येक नगरीय निकाय के दो वार्डों का चयन किया जाएगा। जिनमें लेबर सेस की वसूली शत प्रतिशत की जाएगी। इनमेें से एक वार्ड ऐसा चयन किया जाएगा जो पूर्ण रूप से विकसित हो चुका है और पॉश कॉलोनी में आता हो, वहीं दूसरा वार्ड ऐसा लिया जाएगा जिसमें निर्माण कार्य अभी शुरू हुए हैं। भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार टास्क फोर्स की जिला कलेक्टर नथमल डिडेल की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय़ लिया गया। जिला कलेक्टर ने कहा कि नए कॉलोनियों में मकान बनाते समय लोग जब निर्माण स्वीकृति लेने आए तभी नगर पालिका लेबर सेस काट ले। वहीं पीलीबंगा व संगरिया नगर पालिकाओं द्वारा लेबर सेस काटने के बावजूद श्रम विभाग में जमा नहीं करवाने के मुद्दे पर जिला कलेक्टर ने पीलीबंगा व संगरिया नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारियों को किश्तों में यह राशि श्रम विभाग को जमा करवाने के निर्देश दिए। जिला श्रम कल्याण अधिकारी अमर चंद लहरी ने बताया कि जिले को इस वित्तीय वर्ष में 30 करोड़ रुपए का लेबर सेस एकत्रित करने का लक्ष्य राज्य सरकार की ओर से दिया गया है। लहरी ने बताया कि एकत्रित किया जाने वाला लेबर सेस श्रमिकों के कल्याण के लिए चल रही विभिन्न योजनाओं के तहत भुगतान हेतु राज्य सरकार द्वारा उपयोग में लिया जाता है। निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों के वेलफेयर के लिए यह फंड खर्च किया जाएगा। गौरतलब है कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में निर्माण पर 1 प्रतिशत लेबर सेस सरकार द्वारा लिया जाता है। निर्माण एजेंसी नगर पालिका, पीडब्ल्यूडी, पीएचईडी, सिंचाई विभाग इत्यादि के द्वारा करवाए गए निर्माण कार्यों का लेबर सेस समय समय पर जमा होता रहता है लेकिन शहरी व ग्रामीण इलाकों में निजी आवासों का लेबर सेस बकाया चल रहा है। खास बात ये निर्माण के एक महीने के अंदर यह सेस नहीं जमा करवाने पर 2 प्रतिशत ब्याज के साथ राशि बढ़ती जाती है। लिहाजा जिला श्रम कल्याण अधिकारी ने सभी लोगों से अपील की है कि वे निर्माण के साथ ही लेबर सेस जमा करवाएं ताकि बाद में ब्याज व पेनल्टी से बचा जा सके।बैठक में जिला कलेक्टर नथमल डिडेल के अलावा पीएचईडी के एसई विष्णु गुप्ता, श्रम कल्याण अधिकारी अमर चंद लहरी, पीआरओ सुरेश बिश्नोई, सिंचाई विभाग से अधिषाशी अभियंता सहीराम यादव, रावतसर ईओ प्रमोद कुमार,मेडिकल कॉलेज ठेका निर्माण कंपनी एचएससीसी मिथिलेश कुमार,नगर परिषद से तुलसीराम, संगरिया से सुरेन्द्र सिंह राठौड़, नोहर से हरीश कुमार, इत्यादि उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack