स्वराज संदेश संवाद पदयात्रा पहुंची चित्तौड़गढ़, जगह-जगह हुआ स्वागत।

चित्तौड़गढ़-गोपाल चतुर्वेदी।
जनजाति समुदाय की ओर से बांसवाड़ा से जयपुर तक निकाली जा रही स्वराज संदेश संवाद संदेश पदयात्रा आज चित्तौड़गढ़ पहुंची जहां पर पदयात्रा का स्वागत किया गया।इसके बारे में जानकारी देते हुए वागधरा संस्था के सचिव जयेश जोशी ने बताया कि वर्तमान परिपेक्ष में स्वराज द्वारा समाज और समुदाय के बीच प्रति स्थापित करने तथा समुदाय के आग्रह को व्यापक स्तर तक ले जाने के उद्देश्य से निकाली जा रही। स्वराज्य संदेश संवाद पदयात्रा आज के ज्वलंत मुद्दों को लेकर निकाली जा रही है। उन्होंने बताया कि जब - जब इस प्रकार की यात्राएं निकाली जाती है तब- तब परिवर्तन देखने को मिलते हैं। उन्होंने कहा कि पदयात्रा का मुख्य उद्देश्य गांव में किसान परंपरागत खेती करें, बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले, गांव का अनाज गांव में ही एकत्र हो जो वहां के ग्राम वासियों के काम आए,  वागधरा की स्वराज्य संदेश संवाद यात्रा परंपरागत खेती को बढ़ावा देने के उद्देश्य से निकाली जा रही है और यह पदयात्रा 2 अक्टूबर को जयपुर में जाकर समाप्त होगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack