स्वर्गीय किरोड़ी सिंह बैंसला के अस्थि विसर्जन कार्यक्रम की हुई शुरुआत, सोमवार को दिग्गज नेता करेगें शिरकत।

अजमेर ब्यूरो रिपोर्ट।
गुर्जर आरक्षण आंदोलन के संयोजक रहे और अहम भूमिका निभा चुके स्वर्गीय किरोड़ी सिंह बैंसला का अस्थि कलश 25 दिन में 75 विधानसभा क्षेत्रों कि यात्रा कर शनिवार रात तीर्थ नगरी पुष्कर पहुंच गया। एमबीसी समाज द्वारा अस्थि कलश विसर्जन को लेकर दो दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। रविवार को मेला मैदान में गुर्जर संस्कृति के गीत, गोठ, रसिया, पद, अलगोजा के सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं और शाम को सरोवर पर गुर्जर समाज की ओर से 25 हजार दीपकों से दीपदान किया जाएगा। रात्रि साढे 8 बजे से देवनारायण भगवान की फड वाचन कार्यक्रम होगा। सोमवार को सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक मेला मैदान में सामाजिक सभा में कर्नल बैसला के जीवन एवं उनके संदेश पर प्रकाश डाला जाएगा। सभा स्थल पर हेलिकॉप्टर से पुष्पवर्षा की जाएगी। स्वर्गीय बैसला के पुत्र विजय बैंसला व्यवस्थाओं का जायजा लेने तीर्थ नगरी पुष्कर पहुंचे। पुष्कर पहुंचने पर समाज के लोगों ने विजय बैंसला का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया।अस्थि विसर्जन के कार्यक्रम में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला सोमवार को पुष्कर कस्बे के मेला मैदान में आयोजित होने वाली सामाजिक सभा में हिस्सा लेंगे।लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला कोटा से हेलीकॉप्टर के जरिए दोपहर 12 बजे पुष्कर पहुंचेंगे। सभा में भाग लेकर मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इस कार्यक्रम में मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ.सतीश पूनिया, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ.अरुण चतुर्वेदी, राजस्थान भाजपा प्रभारी अरुण सिंह, भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत, राष्ट्रीय लोक दल अध्यक्ष जयंत चौधरी, सपा विधायक अतुल प्रधान सहित कई नेता शामिल होंगे। आयोजकों ने बताया कि कार्यक्रम मे प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को भी आमंत्रित किया है।सामाजिक सभा के बाद दोपहर 2 बजे गुर्जर समाज के लोग पुष्कर सरोवर पर पहुंचेंगे और प्रत्येक घाटों पर अलग-अलग कलशों के जरिए सामूहिक रूप से अस्थि विसर्जन किया जाएगा। इस दौरान स्वर्गीय कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के पुत्र गुर्जर घाट से अपने पिता की अस्थियों को पुष्कर सरोवर के पवित्र जल में प्रवाहित करेंगे। इसी के साथ अस्थि विसर्जन कार्यक्रम का समापन हो जाएगा ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack