पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष राकेश झांझड़िया की पीट पीटकर हत्या।

झुंझुनू ब्यूरो रिपोर्ट।
झुंझुनूं के सेठ मोतीलाल कॉलेज के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष राकेश झाझड़िया की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई।भड़ौदा खुर्द निवासी की कार को पहले कैंपर वाहन से टक्कर मारी गई फिर नीचे उतारकर सरिए और लोहे बरसाए गए। बुरी तरह से घायल झाझड़िया को अस्पताल पहुंचाया गया जहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया।पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश में जगह जगह दबीश दे रही है। वही परिजनों और राकेश के समर्थकों ने कहा है कि जब तक आरोपियों की गिरफ्तारी होगी वो लोग शव नहीं उठाएंगे। हत्या का कारण छात्रसंघ चुनाव को लेकर रंजिश माना जा रहा है। पुलिस के मुताबिक भड़ौदा खुर्द निवासी 28 साल के राकेश पुत्र महेंद्र झाझड़िया शुक्रवार शाम को अपने साथी संजीव झाझड़िया के साथ कार से घर जा रहे थे। तभी सामने से कैंपर में आए युवकों ने उनकी कार को टक्कर मारकर रुकवाया और नीचे उताकर सरियों एवं लोहे के पाइपों से पीट डाला। गंभीर घायल राकेश को समीप के बीडीके अस्पताल लाया गया। जहां कुछ समय बाद उनकी जान चली गई। सूचना पर राकेश के पिता व भाई समर्थक मौके पर पहुंचे। राकेश बीकानेर से 1 दिन पहले ही गांव पहुंचे थे। दरअसल SFI से संबंधित राकेश समाज सेवा का काम भी करते थे। इन दिनों वो और उनके दोस्तों की एक टीम लंपी ग्रस्त गोवंश की देखभाल में लगी हुई थी। शुक्रवार दोपहर भी राकेश और युवा टीम अपने खर्चे पर गांव के पास काटली नदी में जेसीबी से गड्ढा खुदवाकर लंपी से मरे गोवंश को दफना रहे थे। बताया जा रहा है कि इसके 3 घंटे बाद घर लौटते समय उसकी हत्या कर दी गई।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack