भाजपा और कांग्रेस पर बरसे असदुद्दीन ओवैसी, प्रशासन को बताया गहलोत का चमचा।

नागौर ब्यूरो रिपोर्ट।
AIMIM के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी एक दिवसीय दौरे पर नागौर के लाडनूं पहुंचे। जहां उन्होंने एक जनसभा को संबोधित किया। लाडनूं में ओवैसी ने देश के प्रधानमंत्री और राजस्थान के मुख्यमंत्री पर जमकर निशाना साधा। लाडनूं में ओवैसी बोले नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद, क्या कर लोगे गोली मारोगे। जेल में डालोगे तो डाल दो। मैं कुरान को, सुन्नत को मानने वाला हूं। मैं कैसे किसी धर्म के खिलाफ बोल सकता हूं। मेरी लड़ाई इंसाफ की लड़ाई है, बराबरी की लड़ाई है और इसी पर लोग अंगुली उठाते हैं कि ओवैसी भड़काऊ भाषण देता है।उन्होंने प्रशासन को अशोक गहलोत का चमचा बताते हुए कहा कि जब तक मैं जिंदा रहूंगा, सच्चाई को बयां करता रहूंगा। ओवैसी ने केंद्र सरकार की नीतियों पर तंज कसते हुए कहा कि मोदी जी से लोग महंगाई के बारे में पूछते हैं तो जवाब मिलता है कि हमने राम मंदिर नहीं बनाया क्या, जब धान के भाव नहीं मिलता और किसान पूछता है तो कहा जाता है कि अब हम ज्ञानवापी के पीछे पड़ गए हैं। हर मुद्दे को घुमा फिरा कर हम पर डाल दिया जाता है। ओवैसी ने कहा कि हिंदुस्तान और राजस्थान के युवाओं को सोचने की जरूरत है कि बीजेपी ने हमें क्या दिया है और क्या छीना है। जीएसटी पर बोलते हुए ओवैसी ने कहा कि पैकिंग दाल पर जीएसटी लग गई है। पैकिंग चावल पर जीएसटी लग गई है, अब तो केवल सांसों पर जीएसटी लगना बाकी है। आईएमआईएम चीफ ने अपने भाषण में कहा कि राजस्थान में मुसलमान 9 फीसदी हैं और केवल 9 सीटें जीत रहे हैं। अब मुसलमानों और दलितों को अपनी सियासी ताकत दिखानी चाहिए। आने वाले चुनावों में बीजेपी और कांग्रेस को अपनी ताकत दिखाने की जरूरत है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack