मंत्री रमेश मीणा ने कैलादेवी मंदिर ट्रस्ट पर साधा निशाना, बोले- ट्रस्ट बना लूट और कमाई का जरिया, कराएंगे अधिग्रहण।

करौली ब्यूरो रिपोर्ट।
ग्राम विकास एवं पंचायती राज मंत्री रमेश मीणा करौली दौरे पर है। इस दौरान मंत्री रमेश मीणा ने उत्तर भारत के प्रसिद्ध आस्थाधाम कैलादेवी मन्दिर और मदनमोहन मंदिर के ट्रस्ट पर निशाना साधा है। मंत्री रमेश ने कहा कि कैलादेवी ट्रस्ट लूट और कमाई का जरिया बना हुआ है। ट्रस्ट के माध्यम से कोई विकास कार्य नहीं किए जाते ना ही कैलादेवी आने वाले श्रद्धालुओं को कोई सुविधाएं प्रदान की जाती हैं। निशुल्क धर्मशाला में भी श्रद्धालुओं से मनमाना किराया वसूला जाता है। मंत्री ने कहा कि ट्रस्ट ने कैलादेवी में कई धर्मशाला को अवैध रूप से बनवा कर कब्जा किया हुआ है। इतना ही नहीं बेशकीमती जमीन पर होम्योपैथिक अस्पताल बनाने के नाम पर कब्जा किया और अब उस पर लग्जरी धर्मशाला बनाकर श्रद्धालुओं से मनमाना किराया वसूला जा रहा है। इसी प्रकार मदनमोहन जी ट्रस्ट में भी मनमानी की जा रही है।  मंत्री ने कहा कि कई मंदिरों में हुए हादसो के बाद भी कोई सबक नहीं लिया जा रहा। मंदिर में प्रवेश और निकासी की अलग-अलग गेट नहीं है। रेलिंग व्यवस्था से श्रद्धालुओं को भारी परेशानी हो रही है। इतना ही नहीं मदन मोहन जी मंदिर ट्रस्ट प्रबंधक श्रद्धालुओं की सुविधाओं की अवहेलना कर रहे हैं। मंत्री ने कहा कि इस बारे में मुख्यमंत्री से वार्ता कर ट्रस्ट का अधिग्रहण कराने और प्रशासक नियुक्त कराने के प्रयास किए जाएंगे। जिससे आय-व्यय का ब्यौरा धरातल पर सामने आ सके और श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सके।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack