आरक्षण की मांग को लेकर माली समाज का प्रदर्शन हुआ उग्र, पुलिस पर किया पथराव।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
माली और कुशवाह समाज के लोगों ने आरक्षण सहित 11 सूत्री मांगों को लेकर गुरुवार देर रात हजारों आंदोलनकारियों ने सीकर और अजमेर दिल्ली हाइवे पर जाम लगा दिया। हाइवे जाम कर प्रदर्शन कर रहे समाज के लोगों को कई बार समझाने के बाद भी जब वे नहीं माने तो पुलिस ने दोनो ओर से घेरकर उन पर लाठीचार्ज शुरू कर दिया । पुलिस के अचानक लाठीचार्ज और उसके बाद तो बवाल मच गया। आंदोलनकारियों ने इसका विरोध करते हुए पथराव किया। इस पथराव और लाठीचार्ज के दौरान करीब आधा दर्जन पुलिसकर्मी और डेढ़ दर्जन से भी ज्यादा प्रदर्शनकारी घायल हो गए। घायलों को निजी वाहनों से अस्पताल पहुंचाया गया। उसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों  की गिरफ्तारी शुरू कर दी डेढ़ सौ से अधिक प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर विश्वकर्मा, दौलतपुरा और हरमाड़ा थानों में इन्हें बंद किया गया है। मौके पर मौजूद समाज के पदाधिकारियों के वाहनों में भी तोड़फोड़ कर दी गई है। माली और कुशवाह समाज और राष्ट्रीय फुले ब्रिगेड के हजारों कार्यकर्ताओं ने अलग से आरक्षण सहित 11 सूत्री मांगों को लेकर गुरुवार देर रात सीकर और अजमेर दिल्ली हाइवे पर जाम लगा दिया। दोनों हाइवे पर 3 से 4 किमी का लंबा जाम लग गया। जाम की सूचना पर एडिशनल कमिश्नर अजयपाल लांबा और कैलाश विश्नोई भारी पुलिस जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे।समझाइश की लेकिन बात नहीं बनी। इससे पहले विद्याधर नगर स्टेडियम में इनका दिनभर धरना प्रदर्शन चलता रहा। गुरुवार शाम को समाज का प्रतिनिधिमंडल सीएमओ भी गया था लेकिन सहमति नहीं बन पाई। देर रात जयपुर पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे और समाज के पदाधिकारियों को कहा कि वे इस तरह से प्रदर्शन नहीं करें जिससे लोगों को परेशानी हो। लेकिन प्रदर्शनकारी डटे रहे उन्होनें हाइवे नहीं छोड़ा। बाद में कमिश्नर रवाना हो गए। कुछ देर के बाद ही पुलिस की गाड़ियां वहां पहुंचने लगी और पुलिस ने चेतावनी देने के बाद बल प्रयोग किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack