पायलट के जन्मदिन पर होगा शक्ति प्रदर्शन,एक दिन पहले ही शुभकामनाएं देंगे समर्थक।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के जन्मदिन से एक दिन पहले जयपुर में उनके समर्थक बड़ी संख्या में जुटने की तैयारी कर रहे है। पायलट का जन्मदिन 7 सितंबर को है। लेकिन इस बार समर्थकों से मिलने का कार्यक्रम 6 सितंबर को रखा है। 7 सितंबर से राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा शुरू हो रही है इसलिए पायलट उसमें शामिल होने कन्याकुमारी जाएंगे, इस वजह से जन्मदिन से एक दिन पहले समर्थकों से मिलने का कार्यक्रम तय किया है। बदले हालात के बीच इस बार पायलट के जन्मदिन पर जुटने वाली भीड़ के राजनीतिक संदेश देने का रहेगा। कोरोना काल के दाे साल बाद इस बार भीड़ जुटाने पर कोई पाबंदी नहीं है, इसलिए पायलट समर्थक बड़ी तादाद में जुटने के प्रयास  कर रहे हैं। पिछले साल कोरोना काल की पाबंदियों के बीच ही पायलट ने अपने समर्थकों से सिविल लाइंस बंगले के बाहर मुलाकात की थी। इस बार बड़े आयोजन की तैयारी है। प्रदेश भर में ब्लड डोनेशन और वृक्षारोपण के कार्यक्रमों की तैयारी की जा रही है। हर जिले में पायलट समर्थक जन्मदिन पर कार्यक्रम करने तैयारी की जा रही हैं।पायलट के जन्मदिन पर इस बार किए जाने वाले कार्यक्रमों को अहम माना जा रहा है। अगले साल प्रदेश में विधानसभा चुनाव हैं, इससे पहले पायलट के जनमदिन के कार्यक्रमों में जुटने वालों समर्थकों की भीड़ को कांग्रेस में शक्ति प्रदर्शन से जोड़कर देखा जा रहा है। पार्टी में चल रही गुटबाजी के बीच यह राजनैतिक ताकत दिखाने का जरिया माना जा रहा है। आने वाले दिनों में पायलट की सत्ता या संगठन में भूमिका तय होने की भी संभावना है। पायलट समर्थकों ने उनकी भूमिका तय करने को लेकर भी अब धीरे धीरे आवाज उठाना शुरू कर दिया है। सचिन पायलट को सत्ता या संगठन में भूमिका दिए जाने पर जल्द फैसला होने के आसार हैं। पिछले दो साल से ज्यादा समय से पायलट के पास कोई पद नहीं है। बताया जाता है कि सुलह कमेटी की सिफारिशों में तय फार्मूला के हिसाब से हाईकमान ने उन्हें सम्मानजनक जिम्मेदारी दिए जाने का आश्वासन मिला हुआ है,पायलट समर्थकों को अब उसी का इंतजार है। सरकार में हुई राजनीतिक नियुक्तियों में कई पायलट समर्थकों को जगह दी गई है। पिछले साल मंत्रिमंडल विस्तार-फेरबदल में भी उनके समर्थकों को जगह दी गई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack