भारत को तोड़ने वाले लोगों को साथ में लेकर कांग्रेस भारत जोड़ने के लिए निकल पड़ी- अजय भट्ट।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने कहा है कि अग्नीपथ योजना में किसी तरह का संशोधन नहीं किया जाएगा। कुछ लोगों द्वारा बेवजह योजना के खिलाफ भ्रांतियां फैलाई गई थी। उन्हें दूर कर लिया गया है। जयपुर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए अजय भट्ट ने कहा कि अग्निपथ को दुनिया के दूसरे देशों की सैन्य शक्ति का अध्ययन करने के बाद तैयार किया है। इसमें एप्लाई करने वाले युवाओं में से 25 फीसदी का फाइनल सिलेक्शन होगा, शेष 75 फीसदी को बाहर किया जाएगा। लेकिन सिलेक्ट नहीं होने वाले कैंडिडेट्स को भी अच्छी ट्रेनिंग मिलेगी। जिससे उन्हें भविष्य में अच्छी नौकरी मिल सकेगी। रक्षा राज्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वजह से ही रूस और यूक्रेन का युद्ध कुछ वक्त के लिए रुक गया था। तब भारत के 22 हजार 500 से ज्यादा स्टूडेंट्स को सकुशल वापस लाया गया। उस वक्त न सिर्फ भारत बल्कि पाकिस्तानी स्टूडेंट्स भी छाती पर तिरंगा लगाकर रूस से सकुशल अपने देश पहुंचे थे। केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री भट्ट ने कहा कि आज हर मोर्चे पर मोदी सरकार ने नेतृत्व में सेना ने मोर्चा संभाल रखा है। देशभर में हमारे जवान पूरी मुस्तैदी से सीमा की सुरक्षा कर रहे है। हमने जल, थल और आकाश तीनों मोर्चो से उसे पुरजोर जवाब दिया है। अब हमारी सेना सर्जिकल स्ट्राइक से दुश्मनों के घर में घुस उन्हें सबक सीखा रही है। केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री भट्ट ने कहा कि एनसीसी  कैडेट्स में से ही कोई आईएएस बनेगा, कोई आईपीएस ,कोई एमपी और एमएलए बनेगा। वो जहां भी जाएंगे उनसे एक अनुशासित व्यक्तित्व की पहचान होगी। एक परफेक्ट नागरिक कैसा होना चाहिए और राष्ट्रप्रेम क्या है, ये कूट-कूटकर एनसीसी कैडेट्स में भरा पड़ा है। यदि कोई कैडेट सी सर्टिफिकेट प्राप्त लेता है तो उसे रिटन टेस्ट देने की जरूरत नहीं है। वो सीधे-सीधे आर्मी में चयनित हो जाएगा। मंत्री अजय भट्ट ने कांग्रेस और राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि भारत तेरे टुकड़े होंगे, भारत तेरी बर्बादी तक जंग जारी रहेगी, कांग्रेसी ऐसे लोगों को साथ में लेकर भारत जोड़ने के लिए चले हैं। जबकि जब देश में 370 हटाई गई। तब इन्हीं लोगों ने विरोध किया। सर्जिकल स्ट्राइक की गई तब विरोध किया। एयर स्ट्राइक पर भी विरोध किया। ऐसे में मुझे नहीं लगता कांग्रेस की इस यात्रा से कोई फर्क पड़ेगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack