इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना का हुआ शुभारंभ, जरूरतमंद परिवार को हाथों हाथ मिले जॉब कार्ड।

करौली ब्यूरो रिपोर्ट। 
इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना का शुभारंभ आज राजकीय पीजी महाविद्यालय करौली परिसर मे किया गया। नगर परिषद आयुक्त अमित कुमार वर्मा ने जॉब कार्डो का वितरण किया इससे पूर्व सभी ने मुख्यमंत्री द्वारा जयपुर से इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना का वर्चुअल शुभारंभ किया गया।जिसको करौली के निवासियों, जनप्रतिनिधियों, जिला कलेक्टर अंकित कुमार सिंह ने देखा एवं सुना।
वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान नगरीय विकास मंत्री शांतिकुमार धारीवाल भी उपस्थित रहे।इस दौरान लोगो को अवगत कराया कि योजना का उददेश्य असहाय गरीब एवं जरूरतमंदों को मनरेगा की तर्ज पर शहरी क्षेत्रों मे हर परिवार को 100 दिन का रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा इससे बरोजगारी पर प्रहार होगा वही शहरी अर्थव्यवस्था भी मजबूत होगी। इस योजना के लिये राज्य सरकार द्वारा 800 करोड रू का प्रावधान किया गया है यह श्रम कार्यो पर आधारित होगी। आयुक्त नगर परिषद करौली ने अवगत कराया कि नगर पालिका एवं नगर परिषद क्षेत्र करौली का निवासी जनआधार से आवेदन कर सकता है एवं आवेदक 18 से 60 वर्ष तक की आयु का कोई भी व्यक्ति आवेदन कर सकता है। यह योजना राज्य सरकार द्वारा जनमानस की पीडा को समझते हुए प्रारंभ की गई है। आयुक्त ने बताया कि इंदिरा गांधी शहरी गारंटी योजना के तहत पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण, स्वच्छता, संपत्ति विरूपण रोकने, कन्वर्जेन्स कार्य, सेवा कार्य, हेरिटेज संरक्षण संबंधी कार्य सहित अन्य कार्य किये जायेंगे। शुभारंभ अवसर पर उपसभापति सुनील सैनी सहित पार्षद एवं जनप्रतिनिधी उपस्थित रहें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack