जोधपुर में स्थापित होगी क्रिकेट अकादमी,स्टेडियम का संचालन एवं प्रबंधन अब आरसीए के जिम्मे-सीएम गहलोत।

जोधपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश में खेलों के विकास और खिलाड़ियों के उत्थान के लिए सरकार कोई कमी नहीं रख रही है। राज्य सरकार के सकारात्मक निर्णयों से खेलों का माहौल बनने के साथ ही खिलाड़ियों में नए जोश एवं उत्साह का संचार हुआ है जो खेल जगत के लिए अच्छा संकेत है। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री ने जोधपुर में राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन की क्रिकेट अकादमी स्थापित करने की घोषणा की। गहलोत जोधपुर के बरकतुल्लाह खां स्टेडियम में नवीनीकरण कार्यों के लोकार्पण समारोह को संबोधित कर रहे थे। गहलोत ने स्टेडियम पहुंचकर पूर्व मुख्यमंत्री स्व. बरकतुल्लाह खां की मूर्ति पर पुष्पान्जलि अर्पित कर स्टेडियम के नवीनीकरण कार्य का लोकार्पण तथा इन कार्यों का विस्तार से अवलोकन किया।
एम.ओ.यू. पर हुए हस्ताक्षर।
इस अवसर पर गहलोत की अध्यक्षता में राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन और जोधपुर विकास प्राधिकरण के मध्य समझौता पत्र (एम.ओ.यू.) पर हस्ताक्षर किए गए। इसमें आरसीए तथा जेडीए के सचिव ने हस्ताक्षर किए। इसी के साथ अब स्टेडियम के प्रबंधन और संचालन की जिम्मेदारी जेडीए ने आरसीए को सौंप दी है।मुख्यमंत्री ने बरकतुल्लाह खां स्टेडियम के कार्याें पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इसे सभी प्रकार की सुविधाओं से परिपूर्ण कर दिया है। इससे खिलाड़ियों को सभी प्रकार के संसाधनों और सुविधाओं का लाभ मिलेगा तथा वे अपनी प्रतिभाओं को निखारकर आगे बढ़ सकेंगे। उन्होंने कहा कि पहले के मुकाबले अब खिलाड़ियों के लिए बेहतर सुविधाएं उपलब्ध हैं।  उल्लेखनीय है कि जोधपुर विकास प्राधिकरण द्वारा 31 करोड़ रूपए की लागत से बरकतुल्लाह खां स्टेडियम में विभिन्न नवीनीकरण कार्य करवाए गए हैं। इनमें खिलाड़ियों के लिए जिम, 26 हजार कुर्सियां, फिजीयो रूम, एंटी डोपिंग रूम, प्रेस कॉन्फ्रेंस हॉल, मिडिया रूम के अलावा मुख्य मैदान और प्रैक्टिस मैदान में दो लाल मिट्टी और तीन काली मिट्टी के पिच अंतर्राष्ट्रीय मापदण्डों के अनुरूप बनाए गए हैं।
खेल प्रतिभाओं की खोज।
गहलोत ने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक का आयोजन प्रदेश के कोने-कोने से खेल प्रतिभाओं को तलाशने, खेलों का माहौल बनाने तथा हर क्षेत्र एवं हर आयु वर्ग के लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए किया गया है। इसमें सभी पूरे जोश और उत्साह के साथ हिस्सा ले रहे हैं। अब ग्रामीण के साथ शहरी ओलंपिक भी होंगे और हर साल होंगे। शहरी ओलंपिक के लिए शीघ्र ही ऑनलाइन पंजीयन आरंभ होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि खिलाड़ियों के भविष्य को संवारने के लिए सरकार ने कई प्रभावी निर्णय लिए हैं। उन्होंने कहा कि इस दिशा में स्पोर्ट्स स्कूल, स्पोर्टर्स अकादमी आदि बनवाए जा रहे हैं। खेलों को जीवन निर्माण में महत्त्वपूर्ण बताते हुए उन्होंने कहा कि निरोगी राजस्थान की संकल्पना को साकार करने में भी खेलों की अहम भूमिका है क्योंकि खेलों से स्वास्थ्य लाभ होता है।  गहलोत ने कहा कि आने वाला बजट युवाओं को समर्पित होगा, जिनमें खिलाड़ी भी शामिल हैं। उन्होंने युवाओं को बजट को लेकर सुझावों की अपील की और कहा कि बजट के समय सुझावों पर गंभीरतापूर्वक विचार कर सर्वहितकारी बजट बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार सुशासन, सहज सुलभ सुविधाओं की उपलब्धता और बुनियादी विकास के लिए कृत संकल्पित है। उन्होंने वैश्विक जरूरतों के अनुरूप शिक्षा के लिए अंग्रेजी माध्यम स्कूलों के संचालन तथा मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का जिक्र करने के साथ ही प्रदेश की एक करोड़ 35 लाख महिलाओं को स्मार्ट फोन देने की बात कही, जिसमें 3 साल तक इन्टरनेट सुविधा निःशुल्क मिलेगी। इससे बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई आदि में सुगमता होगी।
स्टेडियम का उपयोग कर निखारें खेल प्रतिभा।
राजस्थान विधानसभाध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी ने बरकतुल्लाह खां स्टेडियम को राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की खेल प्रतिभाओं को विकसित करने वाला बताते हुए कहा कि इससे खेल जगत को एक नहीं बल्कि अनेक रवि बिश्नोई जैसे खिलाड़ी मिलेंगे। डॉ. जोशी ने कहा कि जयपुर, जोधपुर एवं उदयपुर में इस प्रकार के स्टेडियम खेल इतिहास में मील के पत्थर साबित होंगे। 
खिलाड़ियों के सपने होंगे साकार।
पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि राजधानी जैसा ही स्टेडियम जोधपुर में तैयार है जिससे मुख्यमंत्री की भावनाओं के अनुरूप प्रदेश के खिलाड़ियों के सारे सपने सच होते दिखाई देंगे। इस कार्य के लिए उन्होंने आरसीए अध्यक्ष वैभव गहलोत का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने बेहतर ढंग से जिम्मेदारी निभाकर प्रदेश में खिलाड़ियों और खेलों के लिए सुनहरे भविष्य के द्वार खोले हैं। डोटासरा ने राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक जैसे नवाचार की सराहना करते हुए कहा कि इससे खेलों के प्रति प्रभावी माहौल बनने के साथ ही खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभाओं में निखार लाकर आगे बढ़ने का मंच मिला है। 
सरकार का सहयोग प्रशंसनीय।
राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष वैभव गहलोत ने कहा कि राजस्थान में खेलों के विकास में प्रदेश सरकार का हर स्तर पर अपेक्षा से अधिक सहयोग प्राप्त होता रहा है। खासकर बीसीसीआई के मैदानों के अनुरूप इस प्रकार के कार्य करने में राज्य सरकार का जो योगदान रहा है, उसके लिए उन्होंने सभी संबंधितों का आभार व्यक्त किया और कहा कि सभी के सम्मिलित प्रयासों से खिलाड़ियों के स्वप्न साकार होने लगे हैं। उन्होंने कहा कि लूणी तहसील के रवि बिश्नोई ने इसी मारवाड़ की धरा पर खेलकर आज अपनी खेल प्रतिभा से देश-दुनिया में नाम रोशन किया है। उन्होंने बताया कि आज हुए एमओयू से आने वाले समय में क्रिकेट खिलाडी कामयाबी के नए आयाम स्थापित कर प्रदेश का गौरव बढ़ाएंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack