सीएम गहलोत ने फिर ईआरसीपी को राष्ट्रीय योजना घोषित करने की मांग की, मंत्री विश्वेन्द्र ने खराब सड़कों पर उलाहना दी।

भरतपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
सीएम अशोक गहलोत गुरुवार को राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल प्रतियोगिता का अवलोकन करने के लिए भरतपुर दौरे पर रहे। इस दौरान गहलोत ने केंद्र पर निशाना साधा। मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार को ईआरसीपी मामले में झुकना ही पड़ेगा। केंद्र ने ईआरसीपी को राष्ट्रीय परियोजना घोषित नहीं किया तो 13 जिलों में भाजपा का सफाया हो जाएगा। सीएम गहलोत ने मंच से घोषणा करते हुए कहा कि धौलपुर से भरतपुर तक के लिए चंबल परियोजना के लिए 3100 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति जारी कर दी गई है।सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि धौलपुर से भरतपुर तक चंबल का पानी पहुंचाने के लिए पाइप लाइन के लिए बजट जारी हो चुका है और इससे 6 शहर और 1000 से अधिक गांव लाभान्वित होंगे।
गहलोत ने कहा कि प्रदेश में लंपी वायरस तेजी से फैल रहा है। इससे पशुओं की मौत भी हो रही है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार लंपी बीमारी को राष्ट्रीय आपदा घोषित करे ताकि इसकी रोकथाम के लिए संयुक्त प्रयास किए जा सकें। सीएम गहलोत ने कहा कि लंबे समय से भरतपुर को गोवर्धन कैनाल से उसके हिस्से का पूरा पानी नहीं मिल रहा है। उन्होंने कहा कि गोवर्धन कैनाल से पानी के लिए हरियाणा सरकार से बात करेंगे ताकि जिलेवासियों को पानी मिल सके। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित कर कहा कि पूरा देश उनकी अपील पर ताली, थाली के लिए एकजुट हो गया था। अब प्रधानमंत्री देशवासियों से शांति और भाईचारे की अपील करें। जिले में खाद की कालाबाजारी पर मुख्यमंत्री गहलोत ने जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को निर्देश देते हुए कहा कि जो भी लोग खाद की कालाबाजारी कर रहे हैं उन्हें सलाखों के पीछे भेजो।
इस दौरान मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने भाषण के दौरान मुख्यमंत्री के सामने ही पीडब्ल्यूडी मंत्री भजनलाल जाटव पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मेरी गर्दन पर ये जो पट्टा बंधा हुआ है वो आपकी बदौलत है। जिले की सड़कों की हालत सुधारवाओ। चिरंजीवी योजना का क्या करेंगे। गर्भवती महिलाओं के रास्ते में ही प्रसव हो जाते हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कार्यक्रम में खिलाड़ियों को ट्रॉफी और प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। उन्होंने कबड्डी प्रतियोगिता का टॉस कर शुभारंभ किया। कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन भी किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack