जूते-चप्पल का खौफ के साए में सीएम गहलोत की सभा, विधायक बाबूलाल ने केवल राजीव गांधी और गहलोत के नारे लगाने को कहा।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
दूदू। अजमेर के पुष्कर में मंत्री अशोक चांदना पर जूते फेंकने और हंगामा करने की घटना ने राजस्थान की राजनीति को गर्म कर दिया है। इस घटना के बाद कई नेताओं और विधायकों में बेचैनी साफ दिखाई देने लगी है। साथ ही डर भी बना हुआ है कि ऐसी घटना फिर नहीं हो जाए। नेताओं के डर का आलम यह है कि जयपुर के दूदू में सीएम अशोक गहलोत की सभा से पहले निर्दलीय विधायक व सीएम सलाहकार बाबूलाल नागर ने सभा में लोगों को चेताया। उन्होंने साफ कहा कि सभा में राजीव गांधी अमर रहें और अशोक गहलोत जिंदाबाद के ही नारे सभी को लगाने हैं। इसके अलावा किसी का भी नारा लगाया तो पुलिस उठाकर ले जाएगी और जेल में डाल देगी। दरअसल सीएम अशोक गहलोत के मंगलवार को सभा में पहुंचने से पहले दूदू से विधायक बाबूलाल नागर सभा में पहुंचे। विधायक नागर ने कहा कि जो दो नारे मैंने लगाए हैं, राजीव गांधी अमर रहें और अशोक गहलोत जिंदाबाद यही नारे सभी को लगाने हैं। इसके अलावा कोई तीसरा नारा नहीं लगाएगा। अगर किसी को तीसरा नारा लगाना है तो उठकर जा सकते हैं। नागर ने कहा कि अगर किसी ने तीसरा नारा लगा दिया तो पुलिस वाले उठा ले जाएंगे, बंद कर देंगे और सरकारी केस बन जाएगा। उन्होंने लोगों से कहा कि आपको केवल ताली बजानी है। नारे केवल दो ही लगेंगे। नागर ने कहा कि हर कोई इस बात का ध्यान रखे कि कोई भी आपके पड़ोस में बैठा किसी और के नारे नहीं लगाए। अगर ऐसा हो तो बता दें नहीं तो पड़ोसी न्यूसेंस करता है और दूसरा आदमी उसकी लपेटे में आ जाता है। नागर ने कहा कि 24 साल से मेरे किसी कार्यक्रम में कभी अनुशासनहीनता नहीं हुई, ना ही मैं बर्दाश्त करता हूं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack