लंपी की रोकथाम के लिए लोगों को किया जागरूक।

सपोटरा-विनोद कुमार जांगिड़।
सपोटरा उपखंड क्षेत्र के गांवों में लंपी स्किन वायरस बीमारी से ग्रस्त गोवंश पशुओं के उपचार एवं बचाव तथा बीमारी की रोकथाम के लिए पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ खुशीराम मीणा द्वारा गठित पशु चिकित्सक टीम ने सपोटरा क्षेत्र के विभिन्न गांवों में पहुंचकर लोगों को जागरूक किया। गठित टीम के प्रमुख चिकित्सक डॉ अनुराग कटियार, डॉक्टर ब्रह्म कुमार पांडे, डॉक्टर बने सिंह मीना तथा सपोटरा ब्लॉक पशु चिकित्सा प्रभारी डॉ नलिनी किशोर ने ग्राम पंचायत गोठरा, अमरवाड़, अमरगढ़, बाजना तथा एकट में पहुंचकर गोठरा पशुधन सहायक रामस्वरूप मीणा एवं एकट के प्रभारी गीता शर्मा के सहयोग से लोगों को लंपी स्किन वायरस बीमारी के बारे में बताया। वरिष्ठ पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ नलिनीकिशोर ने बताया कि लंपी बीमारी का प्रकोप विगत दिनों में काफी कम हुआ है एवं मृत्यु दर में कमी आई है दवाओं का असर दिख रहा है एवं बीमारी नियंत्रण में है जो पशु पहले से ही लंपी बीमारी से ग्रस्त हैं उनमें रिकवरी दर में तेजी आई है। उन्होंने बताया कि उपचार के साथ-साथ यदि किसी पशु की मृत्यु हो जाती है तो उसका वैज्ञानिक ढंग से जमीन में 5फीट का खड्डा खोदकर निस्तारण करना आवश्यक है इसके अलावा जो पशु रोग ग्रस्त हैं उनका आइसोलेशन अर्थात अलगाव करना भी आवश्यक है पशुपालन विभाग लंपी स्किन वायरस बीमारी को रोकने का प्रयास कर रहा है कहीं भी सूचना मिलने पर बीमारी पर काबू करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack